Ad Code

कांग्रेस में गुटबाजी: महिला सशक्तिकरण के कार्यक्रम में प्रोटोकॉल को दरकिनार कर महिला नेत्रियों को किया दरकिनार

शिवपुरी। लोकसभा चुनाव को दृष्टिगत रखते हुए 18 फरवरी को महिला सशक्तिकरण एवं सम्मान समारोह का आयोजन किया जा रहा हैं। इस कार्र्यक्रम महारानी प्रियदर्शनी राजे सिंधिया मुख्य अतिथि के रूप में भाग लेगी और महिलाओं से मतदान केन्द्रबार संपर्क महिलाओं को सशक्त करने का कार्य करेंगी।

लेकिन यहां सबसे बड़ा पहलू यह है कि इस महिला सम्मलेन को आयोजित करने वाले कर्ताधर्ताओं द्वारा महिलाओं की खुलेआम उपेक्षा की जा रही हैं। इसमें न तो संगठन के हिसाब से प्रोटोकॉल का ध्यान रखा गया हैं क्योंकि ब्लॉक पदाधिकारियों द्वारा सोशल मीडिया पर अपलोड किए गए एक राजनैतिक बैनर में स्थानीय प्रभारी मंत्री सहित जिले के महिला जिलाध्यक्ष सहित कई कई पूर्व जिलाध्यक्षों एवं वरिष्ठ नेत्रियों को दरकिनार कर छोटी सोच प्रदर्शित की हैं और संगठन में गुटबाजी को बढ़वा दिया हैं। 

18 फरवरी को महारानी प्रियदर्शनी राजे सिंधिया के दौरा कार्यक्रम के दौरान आयोजित महिला कार्यकर्ताओं से मतदान केन्द्रवार संपर्क करेंगी इस महिला सम्मेलन का उत्तरदायित्व जिला महिला कांग्रेस एवं जिला कांग्रेस के अनुसार ब्लॉक स्तर पर किया जाना हैं। इस कार्यक्रम की प्रारंभिक तैयारी में ही गुटबाजी खुलकर सामने आ रही हैं। महिला कांग्रेस पदाधिकारियों द्वारा विधानसभा महिला प्रभारी रूची गुप्ता एवं जिलाध्यक्ष श्रीमती ऊषा भार्गव ने संयुक्त रूप से प्रत्येक वार्ड में जाकर वार्ड महिला अध्यक्षा से मतदान केन्द्रबार तैयारी की गई। 

उक्त तैयारी गुटबाजी में धरी की धरी रह गई और ब्लॉक अध्यक्ष ने सिंधिया जनसंपर्क कार्यालय की बैठक में अपने कुछ साथियों सहित हंगामा कर दिया तथा  अपने हिसाब से कार्यक्रम की योजना कांग्रेस जिलाध्यक्ष के साथ बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया जिसमें प्रभारी मंत्री, वर्तमान जिलाध्यक्ष महिला कांग्रेस ब्लॉक अध्यक्ष महिला कांग्रेस, पूर्व जिलाध्यक्ष महिला कांग्रेस तथा वरिष्ठ महिला कांग्रेस नेत्रियों की जगह नहीं दी गई हैं। उक्त सम्मेलन महिलाओं के सशक्तिकरण सम्मान को लेकर किया जा रहा है लेकिन अपने ही संगठन महिलाओं का सम्मान नहीं तो फिर कैसे महिला सशक्त हो सकेंगी। 

इनका कहना हैं
जिन व्यक्तियों ने यह बैनर बनवाया हैं वह गलत हैं क्योंकि संगठन के माध्यम से प्रोटोकॉल का ध्यान रखना चाहिए और पार्टी स्तर पर इस तरह से छोटी सोच का परिचय नहीं देना चाहिए। 
हरवीर सिंह रघुवंशी, प्रदेश सचिव कांग्रेस और सांसद प्रतिनिधि