मेडिकल कॉलेज नियुक्ति घोटाला: गुपचुप आचार संहिता में कर डाली दंत चिकित्सक की नियुक्ति | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। शिवपुरी मेडिकल कॉलेज की सुविधाओ और विशेषताओ की एक भी खबर अभी तक प्रकाशित नही हुई हैं,लेकिन कॉलेज के भर्ती काण्ड अवश्य प्रकाशित हो रहे हैं। लगतार इस कॉलेज के पैरामेडिकल स्टाफ की भर्ती काण्ड की खबरे प्रकाशित हो रही थी कमिशनर ने जांच के आदेश के बाद डॉक्टरो की भर्ती प्रक्रिया पर सवाल खडे हो रहे हैं,नियमो को तोडकर दंत चिकित्सक की नियुक्ति का मामला प्रकाश में आया हैं। 

जानकारी के अनुसार दंत रोग विभाग में सीनियर रेजीडेंट के लिए पोस्ट के लिए विज्ञप्ति जारी हुई थी। इस पद के लिए 30 से 35 लोगों के आवेदन आए। फाइनल लिस्ट में 10 से 12 लोगों को कॉल लेटर जारी कर साक्षात्कार के लिए 5 मई 2018 का समय दिया गया। डॉ. रोहित शर्मा, डॉ. राहुल शर्मा निवासी ग्वालियर, डॉ. राजवीर सिंह यादव सहित अन्य आवेदकों ने संपर्क किया। 

बाद में एकाएक साक्षात्कार स्थगित कर कर दिए। अगली तारीख के इंतजार के बाद जनवरी महीने में पता चला कि संबंधित पोस्ट पर किसी अन्य की नियुक्त कर दी गई है। जबकि साक्षात्कार के लिए पुन: किसी को कॉल लेटर तक जारी नहीं किए गए। मेडिकल कॉलेज पीआरओ डॉ गिरजा गुप्ता का कहना है कि सीनियर रेजीडेंट डेंटल पोस्ट पर डॉ प्रीति भदौरिया की पोस्टिंग कैसे हुई, इसे दिखवा रहे हैं।

उधर एक आवेदक डॉ. रोहित शर्मा का आरोप है कि सीनियर रेजीडेंट डेंटल के लिए हमने आवेदन किए थे। कॉल लेटर भी हमारे पास है। 5 मई को साक्षात्कार स्थगित कर दिया। फिर कोई सूचना नहीं दी। पिछले महीने ही डॉ प्रीति भदौरिया को भर्ती कर लिया। इसी माह पता चला है। इस संबंध में डीन से चर्चा की है। उनकी तरफ से खास जवाब नहीं मिला है।

भर्ती कैसे हो गई, मामले को दिखवाएंगे 
बैठक के लिए भोपाल निकल आई हूं। डॉ रोहित शर्मा से बातचीत हुई है। सीनियर रेजीडेंट भर्ती कैसे हो गई, इस मामले को दिखा लेंगे। उनसे कहा है कि दो तीन दिन बाद मिल लेना। डॉ. इला गुजारिया, डीन, मेडिकल कॉलेज 

पैरामेडिकल भर्ती में अनुभव के अंक नहीं जोड़े 
ड्रेसर के पद के लिए प्रशिक्षण प्रमाण पत्र के अंक ने जोडे जाने के बाद टेक्निकल असिस्टेंटो के अनुभव के अंक भी खा जाने का मामला फिर उठा हैं। बताया जा रहा हैं कि आवेदक अमित कुमार बसेड़िया ने टेक्निकल असिस्टेंट पद के लिए आवेदन किया है। जारी सूची में 408वां नंबर है। अमित का कहना है कि उसके अनुभव के करीब 8 अंक नहीं जोड़े गए हैं। भर्ती प्रक्रिया में मनमानी चल रही है। महिलाओं की लैब असिस्टेंट लिस्ट जारी कर दी है लेकिन पुरुषों की जिस्ट ओपन नहीं की जा रही। 

आवेदक अंकिता सिंघल ने लैब असिसटेंट, लैब टेक्नीशियन और टेक्नीशियन तीनों पदों पर आवेदन किया है। टेक्नीशियन की जारी लिस्ट में अनुभव अंक नहीं जोड़े हैं। जबकि लैब टेक्नीशियन व लैब असिस्टेंट सूची के बारे में मेडिकल कॉलेज पर कोई सूचना तक नहीं दी जा रही। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics