Ad Code

अंधे कत्ल का पर्दाफाश: आरोपी की पत्नि के साथ की थी छेडछाड, इस लिए कर दी थी भूपत की हत्या | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। बीते 26 दिसंबर को दिनारा थाना क्षेत्र के खुदावली गांव में हुए अंधे कत्ल का पुलिस ने आज पर्दाफास कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में चार आरोपीयों को गिरफ्तार कर हिरासत में ले लिया है। पकडे गए आरोपीयों ने इस मामले में अपना अपराध कबूल करते हुए महिला से छेडछाड करने के चलते हत्या की बात स्वीकार की है। पुलिस ने आरोपीयों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया जहां से न्यायालय ने आरोपीयों को जेल भेज दिया। 

जानकारी के अनुसार  26 दिसंबर को फरियादी मदन सिंह पुत्र जगन्नाथ रावत उम्र 70 साल निवासी खुदावली,थाना दिनारा ने थाना दिनारा पहुंचकर शिकायत की कि उसका लड़का भूपत रावत उम्र 36 साल का दिनांक 25 दिसंबर को शाम 5 बजे गांव के बल्ला जाटव,रामस्वरूप जाटव,खेमराज जाटव,मदन जाटव के साथ में था जो देर रात तक घर वापस नहीं लौटा तब अपने नाती मनमोहन के साथ भूपत सिंह को सभी जगह तलाशा।

सुबह उसके छोटे नाती आशिक ने बताया कि पापा भूपत सिंह की लाश बंधा तिराहे के पास रोड किनारे पड़ी है इस पर मेरे द्वारा जाकर देखा तो लड़के भूपत सिंह की लाश खून से लथपथ हालत में जिसके माथे एवं सिर पर चोटें थीं, पड़ी मिली । जिसकी किसी अज्ञात व्यक्ति ने चोेटें पहुंचाकर हत्या कर दी है। इस मामले में पुलिस ने आरोपीयों के अज्ञात आरोपीयों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया था। 

प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश हिंगणकर ने अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी गजेन्द्र सिंह कंवर को आदेशित किया कि इस अंधे कत्ल का पर्दाफाश जल्द से जल्द होना चाहिए। पुलिस अधीक्षक शिवपुरी के आदेश पर अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी एवं एस.डी.ओ.पी. करैरा आर.पी.मिश्रा के मार्गदर्शन एवं थाना प्रभारी दिनारा कैलाश नारायण शर्मा के नेत्रत्व में एक पुलिस टीम का गठन किया गया । 



पुलिस टीम द्वारा विवेचना के दौरान फरियादी मदन ने अपनी रंजिश गांव के बालकिशन रावत तथा बल्ला उर्फ गौतम जाटव से होना बताया, विवेचना में यह भी जानकारी मिली कि मृतक भूपत सिंह ने बल्ला जाटव,रामस्वरूप जाटव,हेमराज जाटव और मदन जाटव के साथ सिंगदौआ तालाब के पास बैठकर शराब पी है। बल्ला जाटव,खैमराज जाटव से सख्ती से पूछताछ करने पर इस घटना का खुलासा करते हुए बताया कि भूपत ने मेरी परिवार की महिला के साथ छेड़छाड़ की थी और 2 साल पहले भी भूपत सिंह ने घर में घुसकर परिवार के साथ मारपीट की थी एवं शराब पीकर गाली गलौच देता रहता था। 

इस कारण मैंने भूपत सिंह को मारने की योजना बनाई और इस योजना के तहत उसने भूपत सिंह के साथ बैठकर शराब पी,फिर अपने साथी खेमराज के साथ मोटरसाइकिल से भूपत सिंह को लाकर बंधा तिराहे के पास पहुंचकर खेमराज ने भूपत को धक्का देकर पटक दिया तथा मैंने पत्थर उठाकर उसके चेहरे पर मारकर उसे नाली में धकेल दिया। आरोपी द्वारा बदला लेने के लिए मृतक की हत्या करना स्वीकार किया गया। प्रकरण में दोनों आरोपीगणों बल्ला उर्फ गौतम पुत्र अच्छेलाल जाटव उम्र 30 साल एवं खेमराज पुत्र पंचूराम जाटव उम्र 35 साल निवासीगण ग्राम खुदाबली गिरफ्तार कर जिस पत्थर से हत्या की थी वह पत्थर व मोटरसाइकिल जप्त कर आरोपियों को न्यायालय पेश किया गया।