Ad Code

अवैध कॉलोनियां काट रहे है भू माफिया, आशियाने की चाहत में फंस रहे है लोग | SHIVPURI NEWS

कोलारस। अपने सपनों के आशियाने की चाह हर व्यक्ति को रहती है, इसके लिए वह कई प्रकार के जतन भी करता है, लोगों की यही मंशा रहती है की, अपने सपनों का महल सबसे अच्छा हो, इसके चलते बैंकों से लोन, और अपनी जमापूंजी तक इस आशियाने को बनाने में लगा देता है ,और लोगों के लिए इस समय घर बनाने का सपना किसी जंग से कम नहीं है, जहां सब्जीबाग दिखाकर कॉलोनी डेवलप, करने वाले कॉलोनाइजर, इन घर की चाह रखने वाले लोगों को अपने चंगुल में फंसा लेते हैं।

इनके द्वारा बताए गए कॉलोनी डेवलपमेंट के फोटो पोस्ट पर सब सुविधा युक्त कालोनियों ,का दावा किया जाता है ,और आम लोगों से यह मोटी रकम वसूल कर कालोनियों में प्लाट काटते हैं ,लेकिन कुछ समय बाद ही  कालोनी का व्यवसाय करने वाले की, सच्चाई सामने आने लगती है ,जिनके द्वारा कहीं-कहीं तो एक ही प्लॉट को कई लोगों को बेच दिया जाता है ,और इन कालोनियों पर शासन द्वारा तय मापदंड और नियमों को पूर्ण किए बगैर ही प्लाटिंग कर दी जाती है ,हालांकि यह सब प्रशासन से सांठगांठ करके ही होता है।

शिवपुरी तक के भूमाफिया कोलारस में काटते हैं कॉलोनी       

कोलारस में बीते बरसों के बाद अचानक कोलारस में जमीनों के भाव आसमान छूने लगे हैं ,और देखते ही देखते यहां भु माफियाओं, से लेकर दलाल ,किस्म के लोग तक प्लॉट बिकवाने से लेकर खरिदवावे तक की गारंटी लेते हैं ,कोलारस नगर में प्लाटौ के नाम पर दलाली कर रहे लोगों द्वारा नगर के ही अधिकांश  लोगों के पैसे तक अपने पास रखे हैं ,और इन को आज तक प्लॉट मिला और ना ही रुपए वापस मिले, यहां ऐसे ही अनेक लोग हैं, जिन्हें जिन्होंने मकान खरीद कर रजिस्ट्री करा डाली ,परंतु इसके हाथ ना तो मकान लगा ,और ना ही रुपए वापस हुए ,कुल मिलाकर कोलारस नगर में काटी जा रही कालोनियों की जमीनों की रजिस्ट्री तो खेतों के नाम से कराई जाती है।

यहां कालोनियों में प्लाट काटकर लोगों से रुपए माफियाओं, से लेकर दलाल, कमा रहे हैं, अधिकांश कालोनियों यहां पर जांच करने के बाद  निकल कर सामने आ सकती है ,आज तक प्रशासन ने अवैध कॉलोनी काटने वाले लोगों पर सख्त रवैया नहीं अपनाया, जिसके चलते नगर में व्यवसाय फल फूल रहा है, भू माफियाओं ने शासकीय जमीनों को भी नहीं छोड़ा कोलारस नगर में स्थित शासकीय जमीनों पर भी राजस्व विभाग से लेकर आला अधिकारियों से सांठगांठ करके, जमीनों को अपना बना कर उन पर स्कूल से लेकर मंदिर, सहित दुकानों, बना दी है।

नगर में करोड़ों की शासकीय जमीनों पर कब्जा करके ,अपने नाम माफियाओं ने करा रखी है, प्रशासन द्वारा कोई कार्रवाई नहीं करने से इनके हौसले बुलंद है, कोलारस में जगतपुर तिराऐ के आगे निवास कर रहे मील वाले सेठ जी ,से लेकर सहित दबंग जनप्रतिनिधियों ने, शासकीय जमीनों पर कब्जा जमा लिया है, अधिकांश जगह कालोनिया बनाकर आसपास मौजूद  जमीनों पर कब्जा कर वेच दिया है।

पहले भी कॉलोनी बनाकर किस्तों में दिए थे प्लॉट             

कोलारस में पहले भी लाल पुलिया के पास, हाईवे पर नगर के लोगों द्वारा कॉलोनी काटी गई, और किस्तों में इनामी कूपन देकर लोगों को चंगुल में फंसा कर लिऐ गए , परंतु आज तक किसी को भी उपलब्ध नहीं कराए गए, ऐसे अनेक मामले यहां पर मौजूद हैं ,यदि प्रशासन बारीकी से जांच करें तो कॉलोनी काटने वाले माफियाओं ,से लेकर दलाल, सहित अनेक जनप्रतिनिधि ,लपेटे में आ सकते हैं।