Ad Code

Responsive Advertisement

कुट रचित दस्तावेज बनाने और LOAN चट करने SBI के 2 ब्रांच मैनजर सहित 3 पर मामला दर्ज | Pichhore, Shivpuri News

शिवपुरी। खबर जिले के की पिछोर तहसील से आ रही हैं। जहां पुलिस ने एक आवेदन पर जांच करते हुए एक लोन के मामले में एसबीआई के 2 ब्रांच मैनेजर व एक अन्य पर मामला दर्ज किया हैंं। बताया जा रहा है कि आरोपियो ने कूट रचित दास्तावेज तैयार कर किसी लोन निकला और उसे चट कर गए। 

जानकारी के मुताबिक ऊषा पत्नी देवेंद्र भट्ट निवासी पिछोर ने 7 नवंबर 2017 को पुलिस अधीक्षक को शिकायती आवेदन दिया था। जिसमें स्टेट बैंक ऑफ इंडिया शाखा चंदेरी रोड पिछोर से रेंट प्लस योजना के तहत नगर परिषद पिछोर से ली गई दुकान के लिए लोन अदायगी के लिए अरुण गुप्ता निवासी पिछोर द्वारा लोन की किस्त जमा न करने पर तत्कालीन बैंक मैनेजर ओपी आनंद ने जमानतदार अरुण गुप्ता से मिलकर षडयंत्र कर कूटरचित फर्जी दस्तावेज बनाए। 

धोखाधड़ी कर किराए की राशि हड़प ली। पिछोर थाना पुलिस ने जांच के आधार पर तत्कालीन बैंक प्रबंधक ओपी आनंद, एससी शर्मा, किराएदार अरुण कुमार गुप्ता पुत्र मोतीलाल गुप्ता निवासी बीजासेन रोड के खिलाफ धारा 420, 467, 468, 471, 120 बी ताहि के तहत मुकदमा दर्ज कर विवेचना में लिया है। 

2.70 लाख का लोन लिया, सहमति पर किराएदार ने छह किश्त जमा की 
आवेदिका ऊषा भट्‌ट ने साल 2005 में 2 लाख 70 हजार रुपए का लोन लिया था। रिपोर्ट दर्ज कराई है कि बैंक शाखा से रेंट प्लस योजना के तहत नगर परिषद पिछोर से ली गई दुकान के लोन खाता क्रमांक 53021156858 में अदायगी के लिए जमानतदार अरुण गुप्ता से सहमति बनी थी। जिसमें अरुण गुप्ता ने बैंक की किश्त जमा करना थी। अरुण ने 3720 रुपए के मान से छह किश्त जमा कर दीं। इसके बाद किश्त भरना बंद कर दिया।