Ad Code

पंप अटैंडर हडताल पर: कल से पूर्ण रूप से बंद हो जाऐगी शहर में पानी की सप्लाई | Shivpuri News

शिवपुरी। वेतन वृद्धि की मांग को लेकर अनिश्चिकालीन हडताल पर गए पम्प अटेंडर आज चौथे दिन भी नगर पालिका मेें हडताल पर डटे रहे। शुक्रवार को शुरू की गई हडताल के दिन नपा के प्रभारी सीएमओ गोविंद भार्गव द्वारा दो दिवस में उनकी समस्याओं का निराकरण करने का आश्वासन दिया गया था। इसके बाद हड़ताली पम्प अटेंडरों का रूख नरम हो गया था। लेकिन वह हड़ताल से पीछे नहीं हटे थे और इन दिनों में शहर के कई स्थानों पर पानी की सप्लाई की गई थी। 

लेकिन आज चौथे दिन नगर पालिका द्वारा उनकी मांग पर कोई विचार न करने के बाद हड़तालियों ने स्पष्ट रूप से अपनी चेतावनी जारी कर नगर पालिका को चेताया है कि आज अगर उनकी बातों पर नगर प्रशासन ने कोई एक्शन नहीं लिया तो कल से शहर के 39 वार्डो में पेयजल की सप्लाई पूर्ण रूप से बंद कर दी जाएगी। अगर ऐसा हुआ तो शहर में पानी की किल्लत बढ़ जाएगी और शहरवासी पानी के लिए परेशान हो जाएंगे। 

ज्ञात हो कि माली और सफाईकर्मियो का वेतन पूर्व में नपा प्रशासन द्वारा बढाया गया था। उस समय पम्प अटेंडरों की वेतन नहीं बढाई गई थी और तब से ही पम्प अटेंडर अपनी वेतन बढवाने को लेकर संघर्षरत हैं। कई बार नपा अध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह और नपा प्रशासन के समक्ष पम्प अटेंडरों ने अपनी मांग को रखा। 

लेकिन हर बार उन्हें आश्वासन ही मिलता रहा लेकिन जब उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो 250 के लगभग पम्प अटेंडरों ने हड़ताल पर जाने का निश्चय किया और शुक्रवार से उन्होंने अनिश्चितकालीन हड़ताल शुरू की और हड़ताल के चौथे दिन भी उनकी मांगों पर नपा प्रशासन ने कोई ध्यान नहीं दिया। शानिवार को पम्प अटेंडरों ने नगर पालिका कार्यालय ेमेंं तंबू गाडक़र अपना प्रदर्शन जारी रखा और कल रविवार को अवकाश के दिन भी पम्प अटेंडर नगर पालिका परिसर में डटे रहे। 

आज सुबह से ही पम्प अटेंडर बड़ी संख्या में धरना स्थल पर बैठे हुए हैं और वह नगर पालिका अधिकारियों से सम्पर्क साधने की जुगत में हैं लेकिन नपा का कोई भी अधिकारी उनके पास नहीं पहुंचा है। जबकि हड़ताल की घोषणा करने के बाद नगर पालिका सीएमओ सीपी राय ने हड़ताल पर जाने वाले पम्प अटेंडरों पर कार्रवाई की बात कही थी। 

इनका कहना है
पम्प अटेंडरों की हड़ताल जारी है और नगर पालिका प्रशासन इस पूरे मामले मेें परीक्षण कर रहा है। इसके बाद ही कोई निष्कर्ष निकाला जाएगा। अगर पम्प अटेंडर शहर की पेयजल व्यवस्था को ध्वस्त करने की योजना बना रहे हैं तो उनका यह कृत्य शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने जैसे है जिस पर नियमानुसार कडी कारवाई की जाएगी। 
सीपी राय सीएमओ नगर पालिका शिवपुरी