Ad Code

Good News: बिजली की चोरी रोकने नया एक्शन प्लान, मात्र 5 रूपए में कनेक्शन । Shivpuri News

शिवपुरी। बिजली विभाग के लाख प्रयास करने के बाद भी बिजली की चोरी नही रूक रही हैं,ग्रामीण क्षेत्रो में चोरी रोकने के लिए बिजली विभाग ने नया एक्शन प्लान तैयार किया है,किसानो को अब मात्र 5 रूपए ओर आवेदन जमा कर नया कनेक्शन मिल जाऐगा,इस पूर्व बिजली कंपनी किसानो से नए कनेक्शन के लिए एक मुश्त रााशि और कई तरह के कागज लेती थी।

बताया जा रहा है कि कंपनी ने कागजो के टंटे को भी खत्म कर दिया हैं। अपने बाकी बचे  स्टांप शुल्क, ठेकेदार शुल्क, सिक्योरिटी चार्ज और कनेक्शन चार्ज की जो फीस है, वह बिल के साथ ली जाएगी। 

इस कारण बनाया यह प्लान 
बता दें कि जिले में कनेक्शन संख्या बढ़ाने के साथ बिजली चोरी रोकने के लिए कंपनी ने यह नया तरीका अपनाया है। ताकि, किसान इससे फायदा उठाकर बिजली कनेक्शन ले सकें और कंपनी में वैध हो जाए। मालूम हो कि तीन और पांच हॉर्स पावर का कनेक्शन लेने वाले किसानों को छह माह में एक बार बिल दिया जाता है। पांच हॉर्स पावर के लिए छह माह में 3500 और तीन हॉर्स पावर के लिए 2100 रुपए का बिल दिया जाता है। 

अब तक बिजली कंपनी कनेक्शन देने के लिए उपभोक्ता से कई का कागजों की मांग करती थी, जिसमें जमीन किताब से लेकर ट्यूबवेल की परमिशन और अन्य जरुरी कागजात। लेकिन कंपनी के नए सर्कुलर के तहत अब किसानों को यह कागजात लगाने की जरूरत ही नहीं रहेगी। किसानों को आधार कार्ड व खसरे की नकल उपलब्ध करानी है। 

वहीं आमतौर पर कनेक्शन चार्ज के नाम पर 1400 रुपए लगते हैं। इसमें स्टांप ड्यूटी के रूप में 500 रुपए, सिक्योरिटी चार्ज 300 रुपए, ठेकेदार शुल्क 200 रुपए और कनेक्शन चार्ज 400 रुपए लगता है। 

कनेक्शन वैध होने से लोड की जानकरी होंगी
5 रू की बटोने में ज्यादा किसान वैध हो जाऐंगें। कंपनी के राजस्व को तो फायदा तो होगा ही,साथ में कनेक्शन से लोड की जानकरी भी कंपनी के पास होगी और लोड की स्थितरता भी होगी,जिससे लाईन फॉल्ट और ट्रांसफरर्फर के फुंकने चांस भी काफी कम होंगें। कंपनी हो लोड की जानकारी होने से कंपनी विविधत नए ट्रांसर्फर रख पाएगी। 

नया सर्कुलर जारी हुआ है इससे बिजली चोरी रुकेगी 
किसान के खेत के ट्यूबवेल से एलटी लाइन से दूरी 50 मीटर होना अनिवार्य है। कंपनी ने नया सर्कुलर जारी किया है, जिसमें 5 रुपए में ट्यूबवेल कनेक्शन देना है। यह शुल्क आवेदन का है। किसानों को महज जमीन के कागजात देने पर कनेक्शन उपलब्ध करा दिया जाएगा। इससे एक तरफ जहां बिजली चोरी रुकेगी। 
आर के अग्रवाल,एस ई विद्युत विभाग शिवपुरी