BMO डॉ. आरएल पिप्पल का वीडियो वायरल, रिश्वत का रट्टा | Shivpuri News

शिवपुरी। बदरवास के विवादित ब्लॉक मेडिकल आॅफिसर स्वास्थ्य केंद्र बदरवास में प्रसव कराने वाली महिलाओं को संबल योजना के तहत मिलने वाली राशि में घूस लेते हुए कैमरे में कैद हो गए। बताया जा रहा है कि संबल योजना में मिलने वाली प्रसूताओं की सहायता रााशि में रूपए खाने के बाद ही प्रसूता को लाभ दिया जा रहा था। ग्रामीणों ने परेशान होकर उन्है कैमरे में कैद कर लिया और कलेक्टर शिवपुरी को शिकायत कर दी। वहीं बीएमओ ने कहा कि मुझे ब्लेकमेल किया जा रहा हैं। शिवपुरी में हुए इस घटनाक्रम से भाजपा सरकार की सुशासन की शवयात्रा निकलते दिख रही है,कि कैसे एक अधिकारी प्रसुताओं के पैसे डकार रहा हैं।

जानकारी के मुताबिक लोकेंद्र सोलंकी निवासी ऐनवारा ने शुक्रवार को शिवपुरी आकर कलेक्टर और एसपी को शिकायती आवेदन दिया है। लोकेंद्र का कहना है कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बदरवास में उसकी पत्नी गायत्री की 8 नवंबर को डिलीवरी हुई थी। दूसरी बेटी के जन्म पर संबल योजना का लाभ दिलाने के लिए मेडिकल ऑफिसर डॉ. आरएल पिप्पल ने 2 हजार रुपए रिश्वत मांगी। गांव के ही हरीशवंश कुशवाह, जीवन लाल कुशवाह, हरगोविंद कुशवाह, हरवीर केवट, गजराम केवट, नारायण सिंह केवट, हरवीर केवट आदि की पत्नियों के भी अस्पताल में प्रसव हुए। 

उक्त लोगों से भी संबल योजना के तहत राशि जारी करने के लिए दो-दो हजार रुपए ले लिया। लोकेंद्र सोलंकी ने स्वयं सहित तीन अन्य हितग्राहियों के कुल 8 हजार रुपए अस्पताल में दिए हैं। इस मामले में एक वीडियो वायरल हुआ है जिसमें बीएमओ रिश्वत मांगते दिख रहे हैं। 

बीएमओ बोले - मुझे ब्लैकमेल किया 
इस मामले में बदरवास बीएमओ (मेडिकल ऑफिसर) डॉ. आरएल पिप्पल का कहना है कि लोकेंद्र सोलंकी ने उसे वीडियो भेजा और 2 लाख रुपए की मांग करते हुए ब्लैकमेल किया। डॉ. पिप्पल ने ऑडियो रिकार्डिंग उपलब्ध कराई है जिसमें मध्यस्थता कर रहे तीसरे व्यक्ति से उनकी बातचीत है। 

ऑडियो में सोलंकी दो लाख रुपए की मांग कर रहा है। यह मांग पूरी नहीं करने पर उन्होंने उक्त वीडियो वायरल कर दी है। हालांकि डॉ. पिप्पल का कहना है कि वीडियो में वह पैसे लौटा रहे हैं, लेकिन अस्पताल स्टाफ में पदस्थ सुरेंद्र द्वारा उक्त राशि डॉ. पिप्पल के सामने ही ली गई है। यह सारी घटना वीडियो रिकार्डिंग में साफ नजर आ रही है। 

वीडियो बनाने वाले युवक को धमकाया
वीडियो बनाने वाले युवक लोकेन्द्र सिंह सोलंकी ने बताया कि जब डॉ. पिप्पल को यह पता चला कि पैसे लेते उनकी वीडियो उसके द्वारा बना ली गई है तो उसे डॉ. पिप्पल ने धमकाया और कहा कि वह वीडियों को उन्हें दे दे, वह उसके पैसे उसे वापस कर देंगे। युवक का कहना है कि पिप्पल ने उसे झूठे केस में फंसाने की धमकी भी दी है।

हम मामले की जांच कराकर कार्रवाई करेंगे 
बदरवास बीएमओ डॉ. पिप्पल के खिलाफ रिश्वत संबंधी शिकायत मेरे पास नहीं आई है। यदि हितग्राहियों से पैसे लेकर लाभ दिलाया जा रहा है तो इसकी जांच कराएंगे। जांच में दोष सिद्ध होने पर निलंबन की कार्रवाई करेंगे। 
डॉ. अर्जुनलाल शर्मा, सीएमएचओ शिवपुरी 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics