Ad Code

पोहरी चुनाव: यादव समुदाय में एकता बनाने में फैल अशोक सिंह, यादव समुदाय बिगाड़ सकता है कांग्रेस का समीकरण | Shivpuri News

शिवपुरी। जिले के पोहरी विधानसभा में होने वाले विधानसभा चुनाव में दिन ब दिन समीकरण बदलते जा रहे है। अभी तक खबर आ रही थी कि जिले की पोहरी विधानसभा में भाजपा भितरघात से लड रही है। जिसके चलते भाजपा की स्थिति क्षेत्र में नाजुक थी । बताया जा रहा था कि इस विधानसभा में कांग्रेस और बसपा के बीच सीधा मुकावला रहेगा। जिसका मुख्य कारण यहां कांग्रेस द्धारा यादव समुदाय के वोटरों को साधने से माना जा रहा था। इन बोटरों को लुभाने के लिए कोई भी पार्टी कोई कोर कसर नहीं छोड रही। और फिर यही काम किया कांग्रेस ने। इस क्षेत्र से लोकसभा का चुनाव लडें अशोक सिंह यादव की शरण ली। इस बैठक का आयोजन यादव समुदाय के लोगों को मनाने के लिए किया गया था। परंतु यहां तो मामला उलट हो गया।  

अशोक सिंह यादव ने बीते रोज ग्राम बेरबाबडी पर अपने समाज की बैठक का आयोजन किया और इस बैठक में समाज के सभी समाज बंधुओं को बुलाया। इस बैठक में अशोक सिंह ने अपने समाज बंधुओं से कांग्रेस के प्रत्याशी सुरेश राठखेडा को बोट करने की अपील की। परंतु यहां हालात यह निर्मित हुए कि समाज के लोगों ने सरेआम अशोक सिंह को ही कह दिया कि आपको पांच साल बाद फिर से यादव समाज की याद आ गई क्या। माना जा रहा है कि यादव समुदाय अशोक सिंह यादव का चुनाव के समय में ही क्षेत्र में उपस्थिति से नाराज है। जिसके खामियाजा यहां से कांग्रेसी प्रत्याशी को उठाना पड़ सकता है। यहां समाज के कुछ लोगों ने खुलेआम कह दिया है धाकड़ समुदाय को छोडकर कोई भी चलेगा। 

इसके साथ ही इस क्षेत्र में जातिवाद पूरी तरह से हावी है। यहां न विकास ने नाम पर और न ही प्रत्याशी के नाम पर अपितु जो मतदान होता है वह पूरी तरह से जाति के नाम पर होता आया है। परंतु एक ही जाति से भाजपा और कांग्रेस के प्रत्याशी का नाम सामने आने से धाकड समुदाय भी दो फाड हो गया है। विधायक भारती अपने समाज बंधुओं की नाराजगी को दूर करने का हर भरसक प्रयास कर रहे है। जिसके चलते यहां कांग्रेस को नुकसान उठाना पड सकता है।