Ad Code

इस चुनावी खर्च को देखकर लगता है कि अच्छे दिन आ गए: निर्वाचन खर्च पकडने में फेल | Shivpuri News

शिवपुरीं। चुनाव आयोग ने विधानसभा के चुनाव के खर्च की राशि 28 लाख रूपए तय की है। विधानसभा निर्वाचन 18 के तहत जिले के पांचो विधानसभा क्षेत्रो से चुनाव लड रहे उम्मीदवारों के द्धारा अभी तक प्रस्तुत किए गए चुनावी खर्चो का लेखा जोखा प्रस्तुत किया है। प्रत्याशियो द्धारा दिए गए ख्रर्च को देखकर लगता है कि बाकई में अच्छे दिन आ गए है।

अब मतदान के मात्र 8 दिन ही शेष बचे है। चुनाव प्रचार के मात्र 6 दिन,जिले के प्रमुख दलो की बात करे तो चुनाव में प्रचार में पूरी ताकत लगा दी है। लेकिन खर्च को जो लेखा-जोखा प्रस्तुत किया है उसे देखकर लगता है कि अपने पूरे प्रचार में निर्धारित रकम में आधी भी खर्च नही कर पाऐंगें। या तो प्रत्याशी चुनाव में व्यर्थ पैसा ख्रर्च नही करना चाहते या फिर चुनाव आयोग खर्च पकडने में फैल साबित हो रहा है।

शिवपुरी विधानसभा की बात करे तो भाजपा की प्रत्याशी यधोधरा राजे सिंधिया ने 5 लाख 44 हजार 626 रुपए और कांग्रेस के प्रत्याशी सिद्धार्थ लढा ने 3 लाख 40 हजार 854 रुपए खर्च किए है। वही कोलारस विधानसभा की बात करे तो भाजपा के प्रत्याशी वीरेन्द्र रघुवंशी ने मात्र 2 लाख 133 रुपए कांग्रेस के प्रत्याशी महेन्द्र यादव ने 2 लाख 36 हजार रुपए बसपा के प्रत्याशी अशोक शर्मा ने 1 लाख 56 हजार 875 रूपए खर्च किए है। 

पिछोर विधानसभा की बात करे काग्रेेंस प्रत्याशी केपी सिंह ने अभी तक 4 लाख 34 हजार 300 रुपए भाजपा प्रत्याशी प्रीतम लोधी ने सबसे ज्यादा 8 लाख 55 हजार 174 रुपए खर्च किए है।वही करैरा में भाजपा के राजकुमार खटीक ने 5 लाख 44 हजार 780 रुपए कांग्रेस के प्रत्याशी जसवंत जाटव 3 लाख 83 हजार 634 रुपए बसपा के प्रत्याशी प्रागीलाल जाटव 3 लाख 5 हजार 900 रुपए सपाक्स के प्रत्याशी रमेश खटीक ने  1 लाख 96 हजार 103 रुपए खर्च किए हैं।

वही पोहरी के विधानसभा के चुनावी युद्ध् में भाजपा के प्रत्याशी प्रहलाद भारती ने 3 लाख 35 हजार 143 रुपए कांग्रेस के प्रत्याशी सुरश राठखेडा 2 लाख 98 हजार 941 रुपए बसपा के प्रत्याशी कैलाश कुशवाह ने 1 लाख 82 हजार 250 रुपए खर्च किए है।

प्रत्याशियों के द्धारा दिए गए चुनावी खर्च की बात करे तेा भाजपा के पांचों प्रत्याशी अब तक कुल मिलाकर 24 लाख 78 हजार रुपए खर्च कर चुके हैं। कांग्रेस के पांचों उम्मीदवारों का अब तक का कुल खर्च 16 लाख 91 हजार रुपए है। चुुनावी खर्च में कांग्रेस से भाजपा आगे चल रही है। जिले की पांचों सीटों पर चुनाव लड़ रहे 75 उम्मीदवार, सभी का अब तक कुल खर्च 70 लाख 78 हजार रुपए है। अगर जिले के सभी उम्मदवारो की बात करे तो चुनाव अभी तक 1 करोडी नही हुआ है।