Ad Code

महावीर टांसपोर्ट पर आकर रंगदारी, जमकर मारपीट, ग्वालियर रैफर | Shivpuri News

शिवपुरी। इन दिनों शहर में रंगदारी का माहौल जमकर चल रहा है। शहर में लगातार कुछ स्टूडेंट गिरोह बनाकर जमकर हंगामा खडा कर रहे है। परंतु बच्चे होने के चलते हर बार यह बच जाते है। ऐसा ही एक मामला आज प्रकाश में आया। जहां आज लगभग आधा सैंकडा युवकों ने एक राय होकर महावीर टांसपोर्ट पर जमकर हंगामा करते हुए मारपीट कर तोडफोड कर दी। परंतु यहां भी अजीव हालात निर्मित हो गए। पुलिस ने इस मामले में महज मारपीट की धाराओं में मामला दर्ज कर चलता कर दिया। इस घटना में घायल एक कर्मचारी को उपचार के लिए जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने युवक की गंभीर हालात को देखते हुए ग्वालियर रैफर कर दिया। 

जानकारी के अनुसार आज शाम नवाब सहाब रोड के पास स्थिति महावीर टांसपोर्ट पर मुनीम देवेन्द्र शर्मा पुत्र बाल गोविंद शर्मा निवासी कष्ण पुरम कॉलोनी का किसी बात को लेकर दीपक सेंगर,जंडेल रावत,नीरज रावत और खगेन्द्र शर्मा से किसी बात को लेकर कहा सुनी हो गई। इसी कहा सुनी के चलते चारों आरोपी अपने लगभग आधा सेकडा साथियों के साथ महावीर टांसपोर्ट पर जा पहुंचे और जमकर हंगामा करते हुए तोडफोड प्रारंभ कर दी। इस पूरे घटनाक्रम का सीसीटीव्ही फुटैज भी महावीर टांसपोर्ट के सीसीटीव्ही में कैद हो गया है। 

इस तोडफोड का जब मुनीम देवेन्द्र शर्मा ने विरोध किया तो आरोपीयों ने एक राय होकर जमकर मारपीट कर दी। इस विबाद में अतुल तिवारी जब युवक को बचाने आया तो आरोपीयों ने इसके साथ भी जमकर मारपीट कर दी। इस मामले की शिकायत करने पीडित पक्ष कोतवाली पहुंचा तो पुलिस ने महज मारपीट की धाराओं में मामला दर्ज कर इन्हें चलता कर दिया। 

बताया गया है कि शहर में गिरोह सक्रिय है। जिसमें शहर के लगभग आधा सैकडा युवक शामिल  है जो कि अपने गांवों से शहर में रहते है। परंतु वह इस गैंग में शामिल होकर शहर में आंतक का पर्याय बने हुए है। उक्त सभी लोग हमेशा एक साथ रहते है और शहर के लोगों को रंगदारी दिखाकर मारपीट करते है। 

हर बार इनकी शिकायतें कोतवाली में पहुंचती है। परंतु कोतवाली पुलिस का इनको सरंक्षण प्राप्त है। जिसके चलते वह हर बार बच जाते है। बीते रोज भी उक्त लोगों ने शहर के एक व्यापारी के साथ भी गालीगलौच की थी। बताया गया है कि बीते रोज इस गिरोह के लोगो ने सब्जी मण्डी में भी जमकर हंगामा किया था। हांलाकि पुलिस के पहुंचने से पहले ही उक्त लोग रफू चक्कर हो जाते है। इस घटना से त्रस्त व्यापारीयों ने आज इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक से मिलने की बात कही है।