पोहरी SDM ने बिना अनुमति प्रचार कर रही 13 गाडी पकडीं फिरी 10 को छोड़ दिया | Pohri News

शिवपुरी। खबर जिले के पोहरी विधानसभा क्षेत्र से आ रही है। जहां आज दोपहर लगभग दो बजे एसडीएम मुकेश सिंह ने बिना अनुमति के प्रचार करते हुए लगभग 10 गाडियों को पकड़ा है। उक्त गाडियां स्वर्णिम भारत पार्टी के प्रत्याशी रणजीत सिंह रावत के समर्थन में प्रचार कर रही थी। इस दौरान सबसे अहम बात यह सामने आई कि इस पूरे घटनाक्रम की एसडीएम ने वीडियो रिकोर्डिंग कराई। उसके बाद पुलिस ने 7 गाडियों को छोडकर महज तीन गाडियों को पुलिस थाना पोहरी में रखबा दिया है।

जानकारी के अनुसार पोहरी एसडीएम मुकेश सिंह आज क्षेत्र में आचार संहिता के चलते दल के साथ चैंकिंग कर रहे थे। तभी खबर मिली कि स्वर्णिम भारत पार्टी के प्रत्याशी एडवोकेट रणजीत सिंह रावत ग्राम धामौरा में चुनाव प्रचार कर रहे है। जिसपर एसडीएम ने धामौरा गांव में जाकर इनकी गाडियों के बारे में प्रचार करने की अनुमति मांगी। उक्त कार्यवाही दोपहर 1 बजकर 50 मिनिट पर की गई। जिसमें एसडीएम मुकेश सिंह ने स्वर्णिम भारत पार्टी का प्रचार करते हुए लगभग 13 गाडियों को पकडा।

जब इन गाडियों के ड्रायवरो से चुनाव संबधित अनुमति की मांग की तो उन्होंने अनुमति दिखाई। जिसपर एसडीएम ने कहा कि यह अनुमति तो महज डेढ बजे तक है। आप आचार संहिता ने नियमों का उलंघन करते हुए चुनाव प्रचार कर रहे है। उसके बाद एसडीएम ने तत्काल पोहरी पुलिस सहित भटनाबर चौकी पुलिस को बुलाकर गाडियों को जप्त कराने की कार्यवाही की। पुलिस पहुंचती इससे पहले एसडीएम ने सभी गाडियों को दोडते हुए महज तीन गाडियों को जप्त कर लिया है।

इनका कहना है-
आज हमने पोहरी क्षेत्र में 13 गाडियों को पकड़ा है। जिसमें से 10 गाडियों के पास प्रचार की अनुमति थी। यह अनुमति डेढ बजे तक की थी। परंतु हमने जब पकड़ा तब यह जनसपंर्क खत्म कर वापस लौट रही थी। जिसपर हमने इन्हें जाने दिया। इसके साथ ही तीन गाडियों पर परमीशन नहीं थी उन्हें पकडकर थाने में रखबा दिया है। इन तीनों गाडियों पर मोटर व्हीकल एक्ट और आचार संहिता उलघंन की धारा 188 के तहत कार्यवाही की जा रही है। 
मुकेश सिंह, एसडीएम और निर्वाचन अधिकारी विधानसभा क्षेत्र पोहरी
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics