Ad Code

अमित शाह के आने से पूर्व BJP में विद्रोह का विगूल फूंका असंतुष्ट भाजपाईयो ने, कहा हटवा कर दम लेेंगें | Shivpuri samachar

शिवपुरी। शिवपुरी में इस समय राजनीतिक हलचल तेज हैं, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के दौरे को लेकर भाजपा में बैठकों का दौर शुरू हो गया हैं, लेकिन आज भाजपाईयों का एक कार्यक्रम हुआ, जिसमें भाजपा का असतुंष्ट धडा एक मंच पर आ गया। और सबने एक ही हुंकार भरी कि शिवपुरी सगठन मंत्री और जिला अध्यक्ष सुशील रघुवंशी को पद को छोड़ देना चाहिए क्योंकि वरिष्ठों का घोर अपमान हो रहा हैं। 

उक्त बैठक हुई शहर की गोकुलम वाटिका प्राईवेट बस स्टेण्ड पर। इस बैठक में लगभग भाजपा के एक सैंकड़ा वरिष्ठ भाजपाई शामिल हुए। उनका आरोप था कि संगठन मंत्री और भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी द्वारा पार्टी के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की जा रही हैं। इस बात को लेकर आज जमकर मंच से आक्रोश व्यक्त किया गया। 

इस अवसर पर मुख्य रूप से भाजपा के पूर्व संगठन मंत्री प्रभाकर लवंगीकर एवं जिलाध्यक्ष राजेन्द्र निगम, विशम्भर छिरौलिया भौंती, नेमीचंद जैन करैरा मंचासीन थे। बैठक को संबोधित करते हुए पूर्व जिलाध्यक्ष राजेन्द्र निगम ने कहा कि भाजपा संगठन द्वारा वरिष्ठ कार्यकर्ताओं की उपेक्षा की जा रही हैं।

जिसमें सबसे ज्यादा वर्तमान संगठन मंत्री एवं भाजपा जिलाध्यक्ष द्वारा पार्टी में विशेष आमंत्रित सदस्यों एवं सदस्यों को तो पार्टी की बैठक या कोई भी गतिविधि की सूचना तक देना भी उचित नहीं समझते हैं, भाजपा के जिलाध्यक्ष होने के नाते उन्हें कार्यकर्ताओं की सुनवाई भी नहीं करते हैं। 

दिल्ली से 5 मिनिट में प्रकट हो गए जिला अध्यक्ष सुशील रघुवंशी
इस मंच से सरेआम बोला गया कि भाजपा के जिला अध्यक्ष का एक झूठ सार्वजनिक किया, वर्तमान भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील रघुवंशी को फोन लगाकर कहा कि भाई साहब आप कहा हैं जिस जिलाध्यक्ष का कहना था कि में तो दिल्ली हूं लेकिन 5 मिनिट के बाद सुशील भाई साहब झांसी तिराहे पर टहलते हुए मिल गए, इससे बड़ा झूठ क्या होगी। 

पूर्व संगठन मंत्री ने कहा यह होता है संगठन म़़ंत्री का काम
वहीं भाजपा के पूर्व संगठन मंत्री प्रभाकर लवंगीकर ने संबोधित करे हुए कहा कि आज हमें अपने लोगों द्वारा उपेक्षित किया जा रहा हैं। उन्होंने संगठन मंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे अपना काम ईमानदारी नहीं कर रहे संगठन मंत्री का कार्य होता है कि अपने एक-एक कार्यकर्ता को जानें-पहचानें और समय-समय पर पार्टी की गतिविधियों से अवगत करायें। 

लेकिन जिले में इस तरह का कार्य नहीं किया जा रहा इससे कार्यकर्ता असंतुष्ट हैं। हमें भाजपा से कोई विरोध नहीं हैं क्योंकि भारतीय जनता पार्टी तो हमारी मां है हम उसका क्या विरोध कर पायेंगे।

रामदयाल जैन ने कहा हम जनसंघ से लेकर आज तक 
बैठक को वरिष्ठ कार्यकर्ता रामदयाल जैन ने संबोधित करते हुए कहा कि हमें हम पार्टी के कर्तव्य निष्ठ कार्यकर्ता हैं क्योंकि जनसंघ से लेकर जनता पार्टी और जनता पार्टी से अब भारतीय जनता पार्टी तक पहुंचाने में इन सभी कार्यकर्ताओं का महत्वपूर्ण योगदान हैं। 

लेकिन कल के नए-नए कार्यकर्ता आकर संगठन के महत्वपूर्ण पदों पर विराजमान हो गए हैं और हम से वरिष्ठ कार्यकर्ताओं दरकिनार कर दिया गया हैं। इससे बड़ी और क्या अवहेलना होगी। 

सभी कार्यकर्ताओं ने आह्वान किया कि हम सब एक हैं और इस लड़ाई के लिए हमें भोपाल भी जाना पड़े तो हम जाने को तैयार हैं लेकिन जिलाध्यक्ष को कुर्सी से हटवाकर ही दम लेंगे। नहीं वह संभल जायें और वरिष्ठ कार्यकर्ताओं सम्मान कर उनकी सुनवाई करें इतना ही नहीं वह झूठ बोलना छोड़दें। नहीं तो हम अपने घर बैठना पसंद करेंगे। इस अवसर पर मंच का संचालन भाजपा के वरिष्ठ नेता यशवंत जैन द्वारा किया गया। 

राष्ट्रीय अध्यक्ष से भी मिलेंगे भाजपा के असंतुष्ठ वरिष्ठ कार्यकर्ता
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह शिवपुरी में 9 अक्टूबर को एक कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करने आ रहे हैं। भाजपा संगठन और जिलाध्यक्ष से रूष्ट कार्यकर्ता एक जुट होकर एक ज्ञापन देंगे जिसमें भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ताओं को न तो पार्टी के गतिविधियों की जानकारी दी जा रही हैं न ही उन्हें पार्टी की विशेष आमंत्रित सदस्य तो बना लिया गया लेकिन उन्हें कोई तबज्जो नहीं दी जा रही हैं। इस बात की शिकायत की जाएगी।

आठों तहसीलों से भी शामिल हुए असंतुष्ट भाजपा कार्यकर्ता
यहां बताना होगा कि शिवपुरी से ही नहीं बल्कि पिछोर, खनियांधाना, भौंती, करैरा, कोलारस, बदरवास से भी भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी इस बैठक में शामिल हुए और उन्होंने ने भी भरे मंच से कहा कि जिले में ही नहीं यह स्थिति मंडल स्तर पर भी हैं। वहीं भी वरिष्ठ कार्यकर्ता इन दिनों घर पर बैठक गए हैं।

न तो कोई भी भाजपा का वरिष्ठ पदाधिकारी हमारी ओर ध्यान दे रहा हैं। इस उनका कहना था कि हम पार्टी का विरोध तो नहीं करते हैं क्योंकि पार्टी हमारी माँ हैं हम माँ का सम्मान करते हैं लेकिन आजकल जो पार्टी में गतिविधि चल रही हैं वह कहीं भी मेल नहीं खा रही हैं क्योंकि पहले पार्टी में कार्यकर्ता को सम्मान मिलता था लेकिन आज वह सम्मान नहीं मिल रहा हैं।