विधानसभा चुनाव को लेकर 3 राज्यों की हुई समन्वय समिति की बैठक, सेल्फी पॉइंट के जरिए कर रहे है मतदाताओं को जागरूक

शिवपुरी। विधानसभा आम निर्वाचन 2018 स्वतंत्र एवं निष्पक्ष तथा शांतिपूर्ण सम्पन्न कराना हम सब का दायित्व है। निर्वाचन की सभी व्यवस्थाओं में आपसी समन्वय और निरंतर संपर्क नितांत आवश्यक है। ग्वालियर संभाग के आयुक्त श्री बी.एम.शर्मा ने यह बात होटल टूरिस्ट विलेज में अंर्तराज्यीय समन्वय समिति की बैठक में कही। 

विधानसभा निर्वाचन के लिए गुरूवार को आयोजित अंतर्राज्यीय तथा अंर्त जिला समन्वय समिति की बैठक में निर्वाचन शांतिपूर्ण और निर्विघ्न सम्पन्न कराने के संबंध में महत्वपूर्ण चर्चा की। बैठक में ग्वालियर जोन के आई.जी. अंशुमान यादव, चंबल जोन के आई.जी. संतोष सिंह, डीआईजी ग्वालियर मनोहर वर्मा, डीआईजी चंबल सुधीर बी.लाड़, कलेक्टर शिवपुरी श्रीमती शिल्पा गुप्ता, पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश हिंगणकर उपस्थित थे। 

ग्वालियर संभाग के आयुक्त बी.एम.शर्मा ने कहा कि मध्यप्रदेश में विधानसभा निर्वाचन के लिए 28 नवम्बर 2018 को, राजस्थान में 07 दिसम्बर 2018 को मतदान कराया जाएगा। मतदान शांतिपूर्ण और निष्पक्ष रूप से सम्पन्न हो, इसके लिए मध्यप्रदेश एवं राजस्थान जिले की सीमा पर विशेष चैकसी और इंतजाम आवश्यक है। उन्होंने कहा कि तीनों राज्यों के प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों का आपसी समन्वय और निरंतर संवाद आवश्यक है। संभागीय आयुक्त श्री शर्मा ने कहा कि सीमा से लगे हुए जिलों के अधिकारी अपने-अपने क्षेत्र में निर्वाचन के दौरान आवश्यक कार्यवाहियां समय रहते पूर्ण कर लें। 

बैठक में यह भी निर्देशित किया गया कि निर्वाचन के दौरान किसी प्रकार की गड़बड़ी न हो, इसके लिए अवैध शराब और अवैध हथियारों की धरपकड़ की कार्यवाही प्रभावी रूप से की जाए। दोनों प्रदेशांे के सीमावर्ती जिलों पर स्थापित किए गए नाकों पर सीसीटीव्ही कैमरे स्थापित कर निरंतर निगरानी की जाए। उन्होंने कहा कि सीमावर्ती गांव के कोटवारों, गणमान्य नागरिकों के साथ निरंतर चर्चा एवं बैठके भी आयोजित की जाए। संभागीय आयुक्त ने जेलों के निरंतर निरीक्षण की बात भी कही। इसके साथ ही कलेक्टर, एसपी के साथ-साथ एसडीओपी और एसडीएम अपने स्तर पर भी बैठकें आयोजित करें और संयुक्त रूप से सीमावर्ती ग्रामों का भ्रमण भी करें। 

बैठक में ग्वालियर जोन के आई.जी. अंशुमान यादव ने कहा कि विधानसभा निर्वाचन को देखते हुए पुलिस की प्रभावी कार्यवाही की जाए। वारंटियों की गिरफ्तारी के साथ-साथ अवैध शराब और अवैध हथियारों को पकड़ने की कार्यवाही भी संयुक्त अभियान चलाकर तेजी से की जाए। उन्होंने कहा कि दोनों प्रदेशों की सीमा पर स्थापित किए गए नाकों का वरिष्ठ अधिकारी भी समय-समय पर निरीक्षण करें और इन नाकों पर प्रभावी कार्यवाही हो, यह सुनिश्चित किया जाए। 

चंबल जोन के आई.जी.संतोष सिंह ने कहा कि वर्तमान समय में सोशल मीडिया के बढ़ते प्रभाव को व्यक्तिगत रखते हुए अपवादों के नियंत्रण पर विशेष ध्यान दिया जाए। पुलिस द्वारा की जा रही प्रभावी कार्यवाही के व्यापक प्रचार-प्रसार में सोशल मीडिया का भी उपयोग किया जाए। उन्होंने कहा कि स्थाई वारंटियों की गिरफ्तारी में राज्य के जिलों के अधिकारियों से सहयोग लेकर कार्यवाही करें। 

आई.जी. श्री संतोष सिंह ने यह भी कहा कि निर्वाचन के दौरान सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित हो रहे संदेशों की भी सघन मोनीटरिंग आवश्यक है। जो भी संदेश प्रसारित हो रहे है, उन पर गंभीरता से समय रहते कार्यवाही की जाना चाहिए। नाकों पर चैकिंग के दौरान चार पहिया वाहनों के साथ-साथ बड़े वाहनों एवं दो पहिया वाहनों की भी गंभीरता से चैकिंग करें। बैठक में ग्वालियर संभाग के डीआईजी श्री मनोहर वर्मा एवं चंबल संभाग के डीआईजी सुधीर बी.लाड़ ने भी निर्वाचन के दौरान पुलिस एवं प्रशासन की सतर्कता से कार्यवाही करने की आवश्यकता बताई। उन्होंने कहा कि जिले की सीमाओं पर निरंतर निगरानी रखना आवश्यक है। 

बैठक में शिवपुरी कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने बताया कि मतदान के दृष्टिगत जिले की सीमा से लगे हुए राजस्थान एवं उत्तरप्रदेश के अधिकारियों के साथ बैठकें आयोजित कर ली गई है, इसके साथ ही एक-दूसरे के दूरभाष नम्बर लेकर निरंतर संपर्क में रहकर कार्यवाही की जा रही है। नाकों की स्थापना के साथ ही कैमरे भी स्थापित कर दिए गए है। जिले में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन के लिए सभी आवश्यक तैयारियां की जा रही है। 

पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश हिंगणकर ने शिवपुरी जिले में निर्वाचन के मद्देनजर अब तक की गई कार्यवाही से अवगत कराया। उन्होंने बताया कि सीमावर्ती राज्यों के सभी स्थानों पर चैकिंग पोइंट स्थापित कर कैमरे लगा दिए गए है। उन्होंने बताया कि जिले के प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में तीन एफएसटी और एसएसटी टीमों का भी गठन कर कार्यवाही शुरू कर दी है। 

बैठक में अपर आयुक्त आबकारी श्री शैलेन्द्र सिंह ने बताया कि आबकारी विभाग के माध्यम से भी ग्वालियर एवं चंबल संभाग के जिलों के लगे हुए अन्य राज्यों की सीमाओं पर अवैध शराब की धरपकड़ के लिए प्रभावी कार्यवाही की जा रही है। अन्य राज्यों के अधिकारियों के साथ आबकारी विभाग के अधिकारियों की बैठकें भी आयोजित की गई है। उन्होंने बैठक में यह भी आग्रह किया कि हरियाणा राज्य की ओर से आने वाले बड़े टेंकरों की विशेष जांच के निर्देश भी विभाग द्वारा दिए गए है। पुलिस के अधिकारियों से भी आग्रह है कि जांच अभियान के दौरान हरियाणा की गाड़ियों की विशेष चैकिंग की जाए। 

निर्वाचन समीक्षा बैठक के दौरान संभाग के दतिया, गुना, अशोकनगर, श्योपुर सहित बारां, झांसी, झांलावाड़, ललितपुर के कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक एवं प्रभारी अधिकारियों ने अपने-अपने जिलों के संबंध में निर्वाचन के दौरान की जा रही तैयारियों और व्यवस्थाओं के संबंध में जानकारी दी। 

शेल्फी पोइंट का शुभारंभ
संभागीय आयुक्त बी.एम.शर्मा, ग्वालियर संभाग के आईजी श्री अंशुमान यादव एवं चंबल संभाग के आईजी श्री संतोष सिंह ने शेल्फी पोइंट का शुभारंभ भी किया। मतदाता जागरूकता के लिए जिला निर्वाचन कार्यालय द्वारा तैयार किए गए शेल्फी बोर्ड का फोटो खिचाकर अतिथियों ने शुभारंभ किया। संभागीय आयुक्त श्री शर्मा ने फोटो खिचाने के साथ ही मतदाता जागरूकता अभियान को प्रभावी रूप से संचालित करने के निर्देश दिए। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics