Ad Code

भारी बारिश के कारण ढही 2 मजिंला बैरक, 18वीं बटालियन में भय का महौल

शिवपुरी। बालाजीधाम शिवपुरी के नजदीक एसएएफ की 18वीं बटालियन में सोमवार को दो मंजिला बिल्डिंग ढह गई। इस बिल्डिंग में 2 सितंबर की सुबह भोपाल से शिवपुरी रवाना हुई बटालियन की डी-कंपनी को ठहरना था। लेकिन किसी कारणवश डी-कंपनी की ड्यूटी अचानक उज्जैन लगा दी और शिवपुरी की जगह उज्जैन रवाना कर दिया। बताया जा रहा है कि उक्त ईमारत भारी बारिश के कारण पानी भरने के कारण उक्त हादसा हुआ हैं। 

जबकि डी-कंपनी में शामिल 80 जवान देर शाम शिवपुरी आकर इसी खाली बैरक में ठहरने वाले थे। यदि जवान रुकते तो निश्चित ही और भी गंभीर हादसा हो सकता था। जिसमें जनहानि भी संभावित थी। बिल्डिंग ढहने की सूचना मिलते ही ग्वालियर से एसएएफ डीजीआईजी संजय कुमार शिवपुरी आए और बटालयिन में ढही हुई बिल्डिंग का जायजा लिया।

शिवपुरी एसपी राजेश कुमार हिंगणकर और एफ एसएल अधिकारी एचएस बरहादिया भी घटना स्थल पहुंच गए। डीआईजी संजय कुमार का कहना है कि 17 साल पुरानी बिल्डिंग के ढहने का मामला गंभीर है। इसकी जांच शिवपुरी पुलिस से करा रहे हैं। जांच के बाद जो भी लोग दोषी होगा, उसके खिलाफ कार्रवाई करेंगे। क्योंकि इतनी जल्दी बिल्डिंग ढहना किसी भी सूरत में ठीक नहीं है। निर्माण में खामी की वजह से यह हादसा हुआ है। इस इमारत के गिरन के कारण बैरक की अन्य इमारतो में रहने वाले जावानो के परिवारो में भय का महौल  उत्पन्न हो गया हैं। 

जो कंपनी इस बैरक में ठहरी थी वह 48 घटें पहले भोपाल रवाना हुई
18वीं बटालियन शिवपुरी की जो बैरक ढही है उसमें एसएएफ की सी-कंपनी ठहरी हुई थी। ड्यूटी भोपाल लगा देने की वजह से यह कंपनी 1 सितंबर की रात भोपाल रवाना हो गई और 2 सितंबर की सुबह भोपाल में आमद दर्ज का दी। इसके बाद भोपाल से डी-कंपनी को शिवपुरी के लिए रवाना किया जा रहा था। जिसे बाद में उज्जैन भेज दिया। डी.कंपनी आकर इसी बैरक में ठहरने वाली थी। 

साल 2001 में 10 लाख से बनाई थी बिल्डिंग 
बटालियन में दो मंजिला बैरक साल 2001 में बनी थी। पुलिस आधुनिकीकरण योजना साल 1996&97 के तहत पुलिस गृह निर्माण मंडल द्वारा 10 लाख रुपए की लागत से निर्माण कराया था। 3 जनवरी 2001 को काम पूरा होने पर तत्कालीन सेनानी एके सिंह ने लोकार्पण किया था। 

कार्रवाई के लिए शिवपुरी पुलिस को आवेदन दे रहे हैं 
बैरक ढहने की सूचना पर बटालियन पहुंचकर जायजा लिया है। 17 साल पुरानी बिल्डिंग का इस तरह ढहना गंभीर है। इस संबंध में शिवपुरी पुलिस को लिखित आवेदन दे रहे हैं। पुलिस जांच कर इस मामले में कार्रवाई करेगी। घटना स्थल पर शिवपुरी एसपी भी पहुंच गए थे। 
संजय कुमारए डीआईजी एसएएफ ग्वालियर