लोहे की बेडियों में जकड़ा 6 माह से कमरे में बंद युवक, प्रशासन ने मुक्त कराया

शिवपुरी। जिले के खनियाधानां स्थित मुसाहिब मोहल्ले में रहने वाले एक युवक को लोहे की बेडियो में जकडकर एक कमरे में बंद कर दिया। युवक के परिजनो ने उसके कमरे को जेल जैसा कर दिया। उसको वही खाना दिया जाता था,वह नित्यक्रिया भी उसी में करता था। मानसिक रूप से इस युवक की चीख पुकार सुनकर आस पड़ोस में रहने वाले लोगों व समाजसेवियो की मदद से शुक्रवार को पुलिस ने इस बीमार युवक को मुक्त कराया और ग्वालियर की मानसिक अस्पताल में भर्ती करया हैं। बताया गया है कि युवक की हालात बहुत खराब हैं। 

जानकारी के अनुसार मुसाहिब मोहल्ला में रहने वाले रघुवीर यादव उम्र 40 वर्ष पुत्र भैया लाल यादव पिछले कई सालो से मानसिक रूप से बीमार था। रघुवीर के परिवार का ईलाज भी कराया लेकिन कोई  फायदा नही हुआ। लेकिन उसकी पागलो जैसी हरकते अवयय बडने लंगी। 

कही किसी पर  रघुवीर जानलेवा हमला नही कर दें,इस कारण परिजनो ने रघुवीर को जंजीरो से बांध कर एक कमरे में बंद कर दिया। और बहार से ताला लगा दिया,ताकि वह किसी को नुकसान न पहुंचा सके। परिजना उसे बंद कैमरे की खडकी से ही खाना देत थे रघुवीर इस कमरे में ही नित्यक्रियाया करता था,उसका यह कमरा जेल जैसा हो गया। 

लेकिन उसकी वेदना भरी चीख पुकार के कारण पडोसियो का दिल दहल गया उन्होने इस मामले में नगर के समाज सेवियो से संपर्क किया और उन्होने इस प्रकरण की सूचना प्रशासन को दी। बताया गया हैं कि खानियाधानां तहसीदार कैलाश मालवीय एवं उनि धर्म सिंह कुशवाह मौके पर पहुंचे और उसे परिजनो की इस जेल से मुक्त कराया। युवक को अस्पताल ले जाकर उसका चैकअप कराया और फिर उसे ग्वालियर के मानसिक आरोग्य शाला भेजा गया। 

Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics