कलेक्टर मेडम: बीएमओ ने रिश्वत लेकर बिना ठहराव के कर दी आशा की नियुक्ति

शिवपुरी। आज कलेक्ट्रेट कार्यालय में आयोजित जनसुनवाई में एक आशा-ऊषा-सहयोगी एकता यूनियन की सदस्य ने बीएमओ पर रिश्वत लेकर बिना ठकराव प्रस्ताव के आशा कार्याकर्ता की नियुक्ति करने का आरोप लगाया है। इस बात की शिकायत यूनियन की सदस्य ने कलेक्टर से की। जहां कलेक्टर ने मामले की जांच का आश्वासन दिया है। 

आज कलेक्ट्रेट में आशा-ऊषा-सहयोगी चंद्रकला चंदेल ने जनसुनवाई में पहुंचकर कलेक्टर को एक शिकायती आवेदन सौंपा। जिसमें उन्होंने बीएमओ और बीसीओ पर 15 हजार रूपए की रिश्वत लेकर बिना ठहराव प्रस्ताव के आशा की नियुक्ति करने का आरोप लगाया है और मांग की है कि उक्त मामले की जांच की जाए। 

शिकायतकर्ता ने आवेदन में उल्लेख किया है कि ग्राम तरावली में 8 हजार 50 की जनसंख्या है। जहां वह वर्ष 2006 से कार्यरत है इसके बावजूद भी बीएमओ और बीसीएओ ने दूसरी आशा कार्यकर्ता की नियुक्ति कर दी है जो गलत है। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics