जीत की ओर जलक्रांति: बदली जाऐगी सिंध की पाईप लाईन

शिवपुरी। शिवपुरी की लाईफ लाईन बन चुकी सिंध जलावर्धन योजना के बार-बार पाईपो के  टूटने की खबरे लगातार आ रही थी। इससे पाईपो की गुणवत्ता पर सवाल खडे हो रहे थे। सबसे ज्यादा घातक तो यह था कि उक्त पाईप डूब क्षेत्र में भी टूट रहे थे। लेकिन अब इन पाईपो को बदला जाऐगा। शिवपुरी की पेयजल समस्या को लेकर अभी शिवपुरी विधायक और प्रदेश की कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने प्रदेश के सीएम शिवराज और आधिकारियो के साथ अभी भोपाल में मिटिंग शिवपुरी की सिंध जलावर्धन योजना को लेकर की है। 

अब बताया जा रहा है कि सिंध के डूब क्षेत्र की लगभग 1 किमी की लाईन बदली जाऐगी। और सतनवाडा फिल्टर प्लांट से शिवपुरी तक की लगभग 15 किमी की लाईन बदली जाऐंगी। इसका स्टीमेट बनया जा रहा है। डूब क्षेत्र में लाईन इस प्रोजेक्ट पर काम करने वाली दोशियान कंपनी ही बदलेंगी। बाकी सतनवाडा फिल्टर प्लांट से शिवपुरी तक की लाईन बदलने के लिए टेंडर लगाए जाऐगें। 

इस लाईन को बदलने का अधिकत्तम समय 9 माह दिया जाऐंगा। अब कास्ट आयरन का पाईप लगाया जाऐंगा। लाईन बदलने की दशा में पुरानी लाईन  को बंद नही किया जाऐंगा। जिससे शहर में जल की पूर्ति होती रहे। 

सिंध की पाईप लााईन में हुए भ्रष्टाचार ओर पाईप लाईन को बदलने को लेकर पब्लिक पार्लियामेंट पिछले 37 वे दिन से माधव चौक चौराहे पर धरना दे रही है। जलक्रांति की मुख्य मांग थी कि जो अभी वर्तमान में जो पाईप लाईन कंपनी ने डाली है वह लम्बे समय तक शहर को पानी नही दे सकती इस लाईन को बदला जाए। 

इस प्रोजेक्ट में लापरवाही बरतने वाले अधिकारी कर्मचारियो पर मामला दर्ज हो। क्यो कि इनके कारण ही इस प्रोजेक्ट में लेटलतीफी हुई है और प्रोजेक्ट की कॉस्ट 60 लाख से बढकर एक करोड के पार हो गई है। इस प्रोजेक्ट के क्रियान्वयन में जमकर भ्रष्टाचार किया गया है। अब जलक्रांति जीत की ओर है शासन ने इस पाईप लाईन को बदलने के लिए कदम उठा लिया है।

Comments

Popular posts from this blog

Antibiotic resistancerising in Helicobacter strains from Karnataka

जानिए कौन हैं शिवपुरी की नई कलेक्टर अनुग्रह पी | Shivpuri News

शिवपरी में पिछले 100 वर्षो से संचालित है रेडलाईट एरिया