IPL पर शहर में सटोरियों ने बिछाए जाल, पुलिस एक्टिव

कोलारस। किक्रेट भारत का सबसे लोकप्रीय खेल है करोड़ो चाहने वालो की किक्रेट की दीवानगी लोगो के सिर चडक़र बोलती है छुटिटयों के सीजन में आईपीएल की धूम सुनाई देने लगती है। किक्रेट के दीवानो के लिए आईपीएस किसी त्यौहार से कम नही। फिलहाल देखा जाए तो किक्रेट मैच हमेशा से ही विवादो में रहा है। कही फिक्सिंग की खबर आती हैै तो कहीं से मैच पर करोड़ो के सट्टे की। यह कहना भी गलत नही होगा किक्रेट और सट्टे का चोली दामन का साथ रहा है। किक्रेट का सीजन आते ही सटोरियो के अच्छे दिन आने शुरू हो जाते है। 

छोटे बड़े सभी तरह के लोगो सटटे में अपना लक आजमाने से नही चूकते जिससे कोई लाखो गवां बैठता है तो कोई कर्ज से अपनी जान ऐसे कई मामले सामने आ चुके है। ऐसे में आईपीएल शुरूआत के साथ ही सटोरियो कि सक्रियता नगर में भी बडऩे लगी है सूत्रो कि माने तो सटोरियो के तार प्रदेश के कई जिलो से जुडऩे कि बात सामने आई है।

नगर में आईपीएल सटोरियो ने जमाये पैर 
देश भर की तरह कोलारस नगर में भी आईपीएल कि खनखनाहट से ही सटटे ने गूंज मचा रखी है। स्टटा किंगो ने अपना फड़ कोलारस में सदर बाजार, मोरई मोहल्ला, मानिपुरा, जगतपुर सहित कई चुंनिदा स्थानो में चार दीवारियो को अपना अडडा अना लिया है। जिसमें मोबाईल के माध्यम से पोईंट के आधार पर हार जीत पर और कई तरह से सटटा प्रतियोगिता का प्लान बनाया गया है। जिसके तहत पुराने सटोरियो ने अपने पुराने ग्राहको से सम्पर्क करना शुरू कर दिया है।  

शोषल मीडिया को बनाया सटटे का अडडा -
सूत्रो की माने तो नगर में युवाओ पर सटटे का क्रेज हावी है। कई लोग सटटे के कारोबार से जुड़े है। इसमें शोषल मीडिया का सहारा प्रमुख रूप आईपीएल सटटे पर हार जीत का दाव लगाने के लिए लिया जा रहा है। जिसमें एक ग्रुप बनाकर शोषल मीडिया के माध्यम से बड़े बड़े सटटाकिंग एक्टिव हो गए है।  जिसके माध्यम से मैच शुरू होते ही रोज लाखो का स्टटा लगाया जाएगा ।

युवाओ कि बर्बादी का कारण है सटटा - 
अकसर देखा कुछ लोग चंद पैसो की लालच में लोग कर्जा एवं घरो के विभिन्न सामान बेचकर स्टटे में बर्बाद कर देते है। जिससे आगे चलकर परिवार टूटने की कगार पर आ जाते है। कई लोग कर्जो से तंग आकर अपराध की तरफ मुड जाते है। जो आगे प्रशासन के लिए नासूर बन जाता है। 

इनका कहना है -
आईपीएल का सीजन शुरू हुआ है ऐसे में सटटोरियो कि एक्टिविटीज कि हम जांच करा रहे है। नगर में अगर कोई सटटा खेलता खिलाता मिला तो उसके द्वारा ऐसे पूरे नेटवर्क को धरासाई किया जाएगा। क्षेत्र में कोई भी अपराध पनपने नही दिया जाएगा। 
सुजीत सिंह भदौरिया, एसडीओपी कोलारस

मामला आपके द्वारा संज्ञान में लाया गया है। ऐसे मामलो विशेष टीम बनाकर पुलिस द्वारा पुरी नजर रखी जाएगा है। सटटे कि एक्टिविटीज में लिप्त पाया गया तो उस पर कठोर कार्यवाही कि जाएगी। 
अवनीत शर्मा, थाना प्रभारी कोलारस
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------

analytics