SHIVPURI: माधौ महाराज की मूर्ति और माधवराव सिंधिया मार्ग का भूमिपूजन

शिवपुरी। खेल एवं युवा कल्याण, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने आज शिवपुरी नगर में 923.73 लाख की लागत के विभिन्न विकास एवं निर्माण कार्यों का भूमिपूजन कर निर्माण एजेंसियों को पूरी गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में निर्माण कार्यों को पूर्ण करने के निर्देश दिए। श्रीमती सिंधिया ने अमृत योजना के तहत 70.62 लाख रूपए की लागत से बनने वाले ग्रीन पार्क एण्ड ओपन स्पेश तात्याटोपे पार्क विकास का, 807.99 लाख की लागत के श्रीमंत माधवराव सिंधिया मार्ग के निर्माण कार्य का और विधायक निधि से 45.12 लाख रूपए की लागत से बनने वाले माधव चौक रोटरी निर्माण एवं सौदर्यकरण कार्य का भूमिपूजन किया। 

कार्यक्रमों में पोहरी क्षेत्र के विधायक प्रहलाद भारती, पूर्व विधायक माखनलाल राठौर, देवेन्द्र जैन सहित नगर पालिका के अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि आदि उपस्थित थे। श्रीमंत माधवराव सिधिया मार्ग दो बत्ती चौराहा मार्ग से 4.21 किलोमीटर की सडक़ का निर्माण किया जाएगा। 

शहर के विकास के लिए अपनायें सकारात्मक सोच: यशोधरा 
सर्किट हाउस में आज कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि भावनात्मक तरीके से शहर के विकास में सहभागी बनें, न कि नकारात्मक सोच के साथ। यदि भावनात्मक तरीके से किया कोई भी कार्य अवश्य ही पूर्ण होता है। जबकि कुछ चैनलों के संवाददाताओं द्वारा नकारात्मक सोच एवं चैनल की टीआरपी बढ़ाने के मकसद से खबरों को तोड़ मरोड़ कर दिखाया गया। जिससे मैं आहत हुई हूं। 

जबकि मेरा ऐसा कोई विचार शिवपुरी के विकास के लिए ऐसा नहीं सोचती हूं। शिवपुरी के विकास के लिए जहां भी मेरी आवश्यकता होती हैं। वहां पर मैं हर प्रकार से हमेशा ही तैयार रहती हूं। शिवपुरी शहर की सडक़ों के निर्माण के लिए शासन से करोड़ों रूपए स्वीकृत कराये गए लेकिन नगर पालिका के प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही एवं उपेक्षा पूर्ण रवैय के चलते सडक़ों का निर्माण आज तक अधर में लटका हुआ है। जबकि इस कार्य को पूर्ण करने की जिम्मेदारी नगर पालिका प्रशासन की हैं लेकिन फिर भी मैं इस कार्य को पूर्ण अपना पूरा सहयोग करने के तैयार और पूर्ण भी मैं ही कराऊंगी।

पेयजल की आपूर्ति के लिए अधिकारियों को दिए दिशा निर्देश
विधायक निधि से नगर पालिका को 14 टेंकर पेयजल की आपूर्ति के लिए उपलब्ध कराये गए थे। जिनमें से महज 9 टेंकरों द्वारा ही पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। जिसके लिए उन्होंने नगर पालिका अधिकारी को स्पष्ट रूप से निर्देश दिए हैं कि पेयजल की आपूर्ति में किसी भी प्रकार की लापरवाही बरदास्त नहीं की जाएगी और अभी हाल ही में पार्षदों, सीएमओ और ओएसडी श्री जैन के साथ मीटिंग कर नगर पालिका में तैनात 400 कर्मचारियों की टेंकरों पर शहर में पानी वितरण की सुव्यवस्थित प्रक्रिया अपनाकर आपूर्ति की जाए। सिंध जलावर्धन योजना का पानी मेरे द्वारा ग्वालियर वायपास तक ला दिया गया हैं। 

अब शहर में पेयजल वितरण की व्यवस्था नगर पालिका प्रशासन एवं सिंध जलावर्धन योजना का कार्य कर रही दोशियान कंपनी का है। पेयजल आपूर्ति व्यवस्था को लेकर उन्होंने कहा है कि मेरे आगामी दौरे तक व्यवस्थाओं को सुधारने की बात कही है। जिसका निरीक्षण उनके द्वारा किया जाएगा। तदुपरांत समीक्षा बैठक ली जाएगी। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics