बोलता फोटो: क्यों न पीएचई विभाग में ताला लगा दिया जाए

कोलारस। अभी हाल ही में कोलारस क्षेत्र में हुए उपचुनाव में बोटों के लिए नेताओं ने पब्लिक से न जाने कितने बादे किए लोगों को आश्वासन दिए। परंतु चुनाव खत्म हो जाने के बाद तो नेताजी इस क्षेत्र की सुध भूल गए। आज जो फोटों सामने आया है उसके देखकर कोई भी कह देगा कि क्यों न पीएचई विभाग को ही बंद कर दिया जाए। यह फोटो है कोलारस क्षेत्र के लगभग 1 दर्जन गांव की पब्लिक के बीच का। गांव की पब्लिक नदी के पानी को पीने को मजबूर है। 

जिले के कोलारस के गावों में पानी की समस्याथ जैसे. जैसे गर्मी अपना रूप दिखाती जा रही  है वैसे. वैसे यह समस्याा और अधिक गहराती जा रही हैा ग्राम राजगढए खरई एदेहरोद ए रामपुरीए कुदोनिया गणेश एसुआटोर, खजुरी, गुढा, देहरदा गणेश, टीला, खौकर, कुल्हाडी सहित अधिकाश गांवों में  पानी के लिये ग्रामीण लोग चिंचित दिखाई दे रहे है ग्रर्मी के धीरे-धीरे तेवर वताने के वाद से ही पेयजल संकट विकराल होता जा रहा है। 

इस बार भू.जल स्तेर अधिक नीचेजाने  के चलते यह समस्याा और अधिक वड गई है वही कुछ गा्वों में पी एच ई विभाग की लापरवाही के चलते भी यह समस्याह दिखाई  दे रही है ग्राम पंचायतो में मोजूद  पानी के टेंकरों का पता नही और टेंकर संरपंचों से लेकर दंवगों के पास रखे हुये हैा ग्राम पंचायत चकरा का टेंकर कोलारस में अनेक दिनों से रखा हुआ है और इसका दुरूपयोंग किया जा रहा है ऐसी कहानी एक ही पंचायत की नही बल्कि अनेक पंचायतो में ऐसा किया जा रहा है ग्रामपंचायत डेहरवारा में पानी की समस्याा सर्दीयों में भी रहती है। 

अब यहा के लोग फोर लाइन सडक के आस पास स्थित बोरो से पीने के लिये पानी लाते है ग्रामों में स्थित हेण्डत पम्पन कही कही खराव है तो कही पानी देना पूरी तरह से बंद हो चुका है और कुल्हारडी गांव के महिला पुरूष हाईवे रोड को पार कर के पानी लाते हैा  यही हाल टपरियन गाव का है यहा पर पीने के लिये पानी नही बचा है गा्ंव में तीन हेण्डवपम्प मौजूद है परन्तु  यह सूख गये हैा यहां के ग्रामीण काम छोड कर सुबह से ही पानी की तलाश में निकल पडते है और एक वर्तन पानी के लिये तीन किलो मीटर की दूरी तय कर रहे है। 

इस बीच एक सूखी नदी और उसके बाद दो पहाडी पार करनी पडती है तव जाकर बडी मुशकिल से पानी कि जुगाड हो पाती है इस गांव कि अवादी 900 के करीव है यह गांव देहरदा गणेश मे शामिल है खरई के पास स्थित सुआटोर, रामपुरी, भेडोन  गांवों में रह रहे लोग नदी नालो में मौजूद बचा हुआ पानी भरकर अपनी प्यािस बुझा रहे है डेहरवारा फोर लाईन पर रात्रि 9 वजे तक ग्रामीण पानी लाते हुये दिखाई देते है। कोलारस विधानसभ क्षेत्र के अधिकांश ग्रामों में पानी की मारामारी दिखाई दे रही हैा और तीन किलो दूरी तय करने के बाद पीने केा मिल रहा है पानी जैसे तैसे ग्रामीण बोरो कुओं से पानी ला रहे है परन्तुल बिजली विभाग ने अधिकांश ग्रामीणें कि बिजली वकाया राशि के चलते बिजली काट दी। 

जिसके चलते पानी होने के बाबजूद नही मिल पा रहा है ग्रामपंचायत गुढा में मोटर पी एच ई विभाग ने नही डाली जिसके चलते यहा के पूर्वसरपंच श्रीराम गौड के द्वारा खुद के निजी बोर से खाली कुओ को भरवाकर ग्रामीण जनो को पानी मिल रहा है कुल मिलाकर स्थिती और भयानक हो सकती है।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics