सांसद सिंधिया के आते ही फिर जोश में आई कांग्रेस

कोलारस। उपचुनाव दोनो ही दलो के लिए शाख का चुनाव बन गया है जहां एक तरफ भाजपा के आधा दर्जन मंत्री कोलारस विधानसभा में लगातार दौरे कर रहे है वहीं कांग्रेस ने भी उपचुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। कांग्रेस कि और से चुनाव कि कमान सांसद सिंधिया ने अपने हाथो में ले रखी है। इसके चलते अभी हाल ही में कोलारस में ठंड़ी पड़ी कॉग्रेस पार्टी में नई उर्जा का संचार क्षेत्रीय सांसद ज्योतिरादित्य ने किया। 

सांसद सिंधिया इस चुनाव के हर पहलू पर अपनी नजर गड़ाए हुए है। ऐसे में कोलारस विधानसभा में निर्धारित कार्यक्रमो के चलते क्षेत्रिय सांसद सिंधिया कोलारस विधानसभा के दौरे पर है। आज सांसद सिंधिया ने कोटा नाका, पहाड़ी, डेहरबारा, पड़ोरा सडक़, रिजौदा, संगेश्वर, माणा गणेशखेड़ा, पीरोठ ग्राम का दौरान किया उनके साथ नेशनल कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव दीपक बाबरिया, मध्य प्रदेश उपनेता प्रतिपक्ष बाला बच्चन भी कार्यक्रमो में शामिल हुए और अपने भाषण में भाजपा कि नीतियो का पर जुबानी प्रहार किये। 

सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया 11 बजे कोटा नाका पहुंचे जहां उनहोने आम सभा को संबोधित किया 12 बजे ग्राम पहाड़ी, पहुचे जहां सासद सिंधिया ने कहा कि यह जो भाजपा के मंत्री संत्री गांव गांव मोहलले मोहल्ले जाकर विकास की बात कर रही है वही विकास कि बात भाजपा ने पिछले 14 वर्षो में क्यूं नही की आज जो मंत्री आज गांव गांव घर घर दस्तक दे रहे है यह चुनाव होते ही पंक्षी की तरह फुर्र हो जाऐंगे। 

विकास का कार्य हमेशा कांग्रेस ने किया है कांग्रेस विकास करती है और यह पार्टी विनास का कारण बनती है नोट बंदी, जीएसटी इसका उदाहरण है। सांसद सिंधिया ने कहा दादा कुशल राजनेता थे उनहोने हमेशा किसान हित कि बात की और क्षेत्र के विकास में मेरा साथ हमेशा दिया है। जिसके बाद पूरा पांडाल तालियो से गूंज गया।

राष्ट्रीय महासचिव दीपक बाबरिया ने भाजपा पर तंज कस्ते हुए कहा भाजपा को इतने वर्षो जनता ने सत्ता से दूर क्यूं रखा यह उनहोने 4 साल में बता दिया नोटबंदी, जीएसटी कि मार से आज देश के हालात खराब है। यह कदम विकास के नही विनाश के लगते है। नोट बंदी के समय देश के अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह ने कहा था नोट बंदी का फैसला गलत था इससे देश के विकास में बाधा उत्पन्न होगी और हुआ भी वही जीएसटी जिसे गब्बर सिंह टैक्स कहे तो कोई परहेज नही यह टैक्स आम जनता के उपर लाद दिया गया मंहगाई के दौर में जीएसटी एक श्राप है। 

ऐसे ही कई विफल फैसलो कि बजह से देश कर्ज कि तरफ बड़ रहा है। सांसद सिंधिया के बारे में बाबरिया ने बताया कि सिंधिया जी असली राजनेता है जो राज परिवार से आते है सारे ऐसो आराम उनके पास है फिर भी उनके पिता और अब खुद स्वयंम सारे ऐसो आराम छोडक़र जनता से मिलने हजाराक किमी दूर चले आते है। इसे राजनेता और सचा सेवक कहा जाता है। 

बाला बच्चन ने अपने भाषण में ग्राम डेहरवारा में कहा कि जो आज हर सभा हर कार्यक्रम में किसानो कि बात करते है। उनसे पूछना चाहता हूं हमारे लोकतंत्र में क्या हक मांगना उचित नही और न्याय कि जगह उन पर गोलियां बरसाना कहां कि नीती है। यह किसानो कि सरकार तो नही अपना हक मांगने गए किसानो को थाने में निर्वस्त्र कर पीटा गया यह किसानो कि सरकार तो नही। 

जहां जहां चुनाव आते है पूरा मंत्री मण्डल उतारकर विकास कि बात कि जाती है। वहां अपना खजाना खोल दिया जाता है वादो कि झणी लगादी जाती है। इससे पहले कोलारस कि याद क्यूं नही आई। प्रदेश सरकार ने किसानो के साथ मजाक किया है फसल बीमा योजना में करोड़ो का घोटाला किया, चावल घोटाला किया युवाओ को धोखा दिया व्यापम घोटाला किया, टमाटर खरीदी घोटाला किया यहां तक तो ठीक है। इस सरकार ने तो सिंहस्त में भी घोटाला करके हमारी आस्था के साथ खिलवाड़ किया। 

सांसद सिंधिया कि सभाओ में अपार जनसमूह देखने को मिला इस दौरान एक एक शब्द पर तालियों कि गडग़ड़ाहट कि आवाज दूर दूर तक सुनाई दी। सासंद सिंधिया कि हर सभा में उनका वर्चस्व देखने को मिला उनकी लोकप्रियता के चलते गांवो में सिंधिया के साथ कांग्रेस पर विशवास सॉ झलकता देखा गया।
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------

analytics