हिम्मत और संघर्ष की काहानी: जिले के छोटे से गांव का ‘‘आजीविका ब्राण्ड’’ चमकेगा प्रदेश स्तर पर

अनूप सिंह भारतीय/शिवपुरी। कहते है मन के हारे है और मन के जीते जीत,इसी कहावत चरिथार्त किया है,ग्राम बिलोकलां की महिलाओ ने। इनके द्वारा निर्मित साबुन अजीबिका अब गांव की पहचान बन गया है,और अब प्रदेश स्तर पर इस ब्रांड को प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह प्रमोट कर सकते है। ग्राम बिलोकलां के जय मां काली और संतोषी मैया स्वसहायता समूह की महिला सदस्य साबुन व्यवसाय से प्रतिदिन 300 से 500 रूपए कमा रही है। इनके द्वारा निर्मित नहाने का साबून लोगों को खूब भा रहा है, जो आजीविका ब्राण्ड के नाम से लोग हाथो हाथ खरीद रहे है। साबुन व्यवसाय से समूह के महिला सदस्यों के परिवार की माली हालत में सुधार हुआ है। वहीं दूसरी ओर ये महिलाए आर्थिक रूप से भी आत्मनिर्भर भी बनी है। 

शिवपुरी जिले के ग्राम बिलोकलां के जय मां काली और संतोषी मैया स्वसहायता समूह की महिलाए श्रीमती प्रेम बाई, श्रीमती किन्ता बाई और श्रीमती जसोदा बाई के नेतृत्व में समूह की महिला सदस्यों द्वारा जिला मुख्यालय पर 26 नम्बर कोठी में साबुन का निर्माण किया जा रहा है। समूहों की अन्य महिला सदस्य भी इस कार्य हाथ बंटा रही है। 
     
साबुन निर्माण हेतु एसआरएलएम के माध्यम से राजगढ़ में महिलाओं को प्रशिक्षण दिलाया गया है। प्रशिक्षण उपरांत एसआरएलएम के माध्यम से प्रत्येक समूह को 80 हजार रूपए की राशि का सामुदायिक वित्तीय निवेश (सीआईएफ) के रूप में ग्राम संगठन बिलोकलां को प्रदाय की गई। इस राशि से महिलाओं द्वारा नहाने के साबुन निर्माण से संबंधित कच्चामाल एवं डाई अहमदाबाद से खरीदा जा रहा है। 

समूह की चार महिला सदस्यों द्वारा प्रतिदिन 1500 साबुन की टिकिया बना रही है। जो मार्केट में 25 रूपए प्रति टिकिया के मान से बिक रही है। प्रत्येक टिकिया पर समूह की महिलाओं को एक रूपए मुनाफे के साथ बोनस भी प्राप्त हो रहा है। 

समूह द्वारा जिले में 736 ग्राम संगठनों के माध्यम से साबुन बेचेन की भी व्यवस्था की गई है। इन संगठनों को भी एक रूपए प्रति साबुन मुनाफा मिल रहा है। स्वसहायता समूह द्वारा निर्मित साबुन की विशेषता है कि ये केमिकल रहित एवं गिलिसरीन युक्त साबुन है। 

जो ‘‘आजीविका ब्राण्ड’’ के नाम से लेमन, रोज और एलोवेरा फ्लेवर में बिक रहा है। जो गुणवत्ता के मामले में ब्राण्डेड कंपनियों के साबुन से कम नहीं है। 
      
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने इस माह भोपाल में आयोजित महिला स्वसहायता समूहो के सम्मेलन में शिवपुरी के आजीविका ब्राण्ड साबुन के सराहना कर देश में इसके ब्राण्डिंग की बात कही है। 
    
आजीविका मिशन ब्लॉक शिवपुरी के सीएलएफ  सोनू शर्मा ने बताया कि महिला स्वसहायता समूहों द्वारा जो नहाने का साबुन निर्मित किया जा रहा है। वह स्वच्छ भारत मिशन के तहत तीन माह में 37 हजार साबुन की टिकिया सप्लाई की जाएगी। इसके साथ जिले में लगने वाले साप्ताहिक हाट बाजारों में भी यह साबुन बेचा जा रहा है। जो ग्रामीणों को आजीविका ब्राण्ड के नाम से खूब भा रहा है। 

Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------