आंखों में मिर्ची डालकर आयशर गाड़ी लूटने वाली लुटेरी महिलाएं दबौची

शिवपुरी। शहर के देहात थाना क्षेत्र में बीते 2 अगस्त की रात्रि में आयशर चालक की आखों में धूल झौंक कर कट्टे की नौक पर लूट की घटना को अंजाम देने बाले गिरोह का आज देहात थाना पुलिस ने पर्दाफास कर दिया है। पुलिस ने इन आरोपीयों को दबौचकर न्यायालय में पेश कर दिया है। आज पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित प्रेस बार्ता में एसडीओपी जीडी शर्मा ने बताया कि बीते 2 अगस्त को राधेश्याम यादव निवासी पीथमपुर आयशर गाड़ी को बनारस एजेन्सी छोडने जा रहा था। तभी रास्ते में मक्सी के पास दो पुरूष, दो महिलाएं और एक दूधमुंहा बच्चा सवारी के रूप में शिवपुरी जाने की बोलकर गाड़ी में बैठ गए थे।

शिवपुरी आने के बाद रात करीब 2:30 बजे खालसा ढाबा के आगे एक महिला ने राधेश्याम की आंखों में मिर्ची झोंक दी। उनमें से एक आरोपी ने राधेश्याम की कनपटी पर कट्टा रख दिया। दूसरा आरोपी गाड़ी चलाने लगा। थोड़ी दूर जाकर उक्त आरोपीयों ने राधेश्याम को गाड़ी से उतार दिया और गाड़ी सहित नगदी 6 हजार रूपए और मोबाईल लूट कर ले भागे। 

इस मामले में पुलिस ने राधेश्याम की रिपोर्ट पर अज्ञात आरोपीयों के खिलाफ धारा 392 भादवि और 11/13 के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया। इस दौरान पुलिस ने फरियादी का मोबाईल सायवर सेल को दे दिया। इस दौरान पुलिस को इस घटना में लूटी गई आयशर गाड़ी ग्वालियर रोड़ से बरामद हो गई। 

इस मामले में पुलिस ने जब मोबाईल की लोकेशन के साथ छानबीन की तो पूरा मामला खुल गया। इस मामले में पुलिस ने आरोपी बाबू झा पुत्र संतोष झा उम्र 18 वर्ष,पवन पुत्र करनसिंह झा उम्र 23 वर्ष, सुनीता पत्नि करण सिंह उम्र 45 वर्ष और आरती पत्नि महेन्द्र पाल उम्र 25 वर्ष निवासी अमोला कॉलोनी को गिरफ्तार कर लूटा गया माल बरामद कर लिया है। 
  
इस मामले का पर्दाफास करने में देहात थाना प्रभारी सतीश सिंह चौहान,उपनिरीक्षक कृपाल सिंह राठौर, उपनिरीक्षक बीएस जादौन, प्रधान आरक्षक अम्रतलाल, आरक्षक नरेश यादव, रघुवीर पाल, सायबर सेल विकास सहित महिला आरक्षक प्रिंयका गौतम की भूमिका सराहनीय रही।
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments: