Wednesday, February 22, 2017

स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन र्ईश्वर की उपासना: कमल मौर्य

शिवपुरी। समाजसेवी संस्था माँ राजराजेश्वरी दरबार उत्सव समिति द्वारा आयोजित नि:शुल्क किडनी रोग शिविर में 124 मरीजों का चिकित्सकों द्वारा उपचार किया गया। इस अवसर पर मु य अतिथि के रूप में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल मौर्र्य ने अपने उदबोधन में माँ राजेश्वरी समिति द्वारा आयोजित शिविर की सराहना करते हुए कहा कि इस तरह के कृत्य र्ईश्वर की उपासना का सर्वश्रेष्ट माध्यम है। 

सिविल सर्जन डॉ. गोविन्द सिंह ने जहां कार्र्यक्रम की अध्यक्षता की वहीं विशिष्ठ अतिथि के रूप में रोगियों की चिकित्सा के लिए ग्वालियर एवं बुन्देल खण्ड के   यातिनाम चिकित्सक, मेडीकल कॉलेज झांसी के प्राचार्य, गुर्र्दा रोग विभाग एवं मेडीसिन विभाग के विभागाध्यक्ष, पैरामेडीकल कॉलेज के डायरेक्टर सेंगर, गोपाल दास बंसल एवं उनकी धर्मपत्नि मंचासीन थीं। प्रारंभ में अतिथियों द्वारा माँ राजेश्वरी के छायाचित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन किया गया। समिति के अध्यक्ष अमन गोयल ने सभी अतिथियों का माल्यार्र्पण द्वारा स्वागत किया। कार्र्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए डॉ. गोविन्द सिंह ने माँ राजराजेश्वरी दरबार समिति द्वारा की जा रही समाजसेवा की भूरि-भूरि प्रशंसा की। 

झांसी से पधारे डॉ. एनएस सेंगर ने गुर्दा रोग के लक्षण एवं उससे बचाव के उपायों पर प्रकाश डालते हुए समिति के शिविर को अनुकरणीय बताया। डॉ. सेंगर ने अपनी टीम के साथ 124 मरीजों की जांच एवं उपचार किया। समिति के सचिव गोविन्द सिंह सेंगर ने शिविर का संचालन करते हुए समिति के विभिन्न क्रियाकलापों की जानकारी देते हुए बताया कि अभी तक समिति 50 चिकित्सा शिविरों का आयोजन कर चुकी है। जिनमें 14 नेत्र चिकित्सा शिविर, 17 नाक कान एवं गला चिकित्सा शिविर, 8 चर्म एवं कुष्ट रोग चिकित्सा शिविर, 5 पित्त रोग चिकित्सा शिविर एक-एक मानसिक रोग, न्यूरो लॉजी एवं बेहरा पन की जांच एवं शिविर आदि शामिल हैं। शिविरों में अभी तक 25770 रोगी उपचार प्राप्त कर स्वास्थ्य लाभ ले चुके हैं।