ShivpuriSamachar.COM

Bhopal Samachar

CIAT SCHOOL CRPF शिवपुरी को मिला उत्कृष्ट सेवा का पुरूस्कार

शिवपुरी। अपने अदम्य साहस और कार्यकुशलता के चलते सीआईएटी स्कूल सीआरपीएफ के आईजी मूल चन्द पॅंवार को उनकी उत्कृष्ट सेवाओं को सम्मान देते हुये 19 मार्च को वर्ष 2018 के लिए महामहिम राष्ट्रपति के विशिष्ट सेवा पदक से सम्मानित किया गया। यह पदक अजित डोबाल राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार, भारत सरकार के कर कमलों से महानिदेशक, केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल की उपस्थिति में प्रदान किया गया। यह अलंकरण समारोह सी.आर.पी.एफ .अकादमी कादरपुर मे आयोजित के.रि.पु.बल, की वार्षिक परेड के भव्य समारोह के साथ किया गया था। 

इन सेवाओं में उत्कृष्ट कार्यों के लिए मिला सम्मान

सीआईएटी स्कूल सीआरपीएफ संस्थान के आईजी मूलचंद पवंार के निर्देशन में पूर्वोत्तर एवं जम्मू व कष्मीर के दुर्गम क्षेत्रों में पूर्ण ईमानदारी एवं कर्तव्य निष्ठा से केरिपुबल में 31 वर्ष से अधिक सेवा करने पर वर्ष 2009 में सराहनीय सेवाओं के पुलिस पदक तथा वर्ष 2016 को सेना की 166 मीडियम आर्टलरी रेजीमेंट नगरोटा में हुए आतंकी हमले के दौरान भी आपने अपनी जान जोखिम में डालकर विशिष्ट बहादुरी, साहस एवं कर्तव्यनिष्ष्ठा का परिचय देते हुए आर्मी के अधिकारियों एवं उनके परिवार के सदस्यों को अधिकारी मैस में से सुरक्षित निकालने में अहम भूमिका निभाई जिसके लिए इन्हे केरिपुबल के पुलिस महानिदेशक द्वारा डी.जी. डिस्क एवं प्रशंसा पत्र प्रदान किया गया एवं जम्मू व कश्मीर के पुलिस महानिदेशक द्वारा भी प्रशंसा पत्र पदान किया गया। 

वर्ष 2004 में त्रिपुरा राज्य में उग्रवादी गतिविधियों के दौरान आईजी श्री पंवार ने जान की परवाह न करते हुए एवं कत्र्वव्य-परायणता दर्शाते हुए अचूक निशाने से खूंखार आतंकवादी एरिया कमाण्डर नयनदेव बर्मन को दिनांक 31/07/2004 को मार गिराया, जिसके लिए महामहिम राष्ट्रपति द्वारा स्वतंत्रता दिवस-2005 के अवसर पर वीरता के लिए पुलिस पदक (पी.एम.जी.) से भी सम्मानित किया जा चुका है। इस उपलक्ष्य पर सम्मान को प्राप्त करने के बाद आईजी श्री पंवार ने संस्थान को फोन से वार्ता करते हुये अपने क्षेत्र के समस्त नागरिकों को होली की शुभकामनाएॅं दी। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics