Ad Code

BANK की गलती: महिला के खाते में आए 3 लाख, सोचा मोदी ने भेजे है, चुकाया कर्ज पति को दिला दी BIKE, अब होगी रिकवरी

शिवपुरी। खबर जिले के करैरा तहसील के सिरसाेना गांव की महिला ममता कोली ने थंब इंप्रेशन मशीन से 3.10 लाख रुपए निकाल लिए। महिला ने समझा कि उसके जनधन खाते में प्रधानमंत्री मोदी ने यह रकम डाली है। खुश होकर अपना सारा कर्ज चुका दिया और बची हुई रकम से पति सुरेंद्र कोली के लिए बाइक व खुद के लिए गहने भी खरीद लिए। 

जब बैंक का अमला पुलिस के साथ उसके घर पहुंचा और सारी सच्चाई बताई तो चेहरे की सारी खुशी गायब हो गई। महिला के पास से मिले 85 हजार रूपए बैंक अमले के ले लिए हैं। शेष पैसे के लिए महिला काे समय दिया गया है। बैंक प्रबंधन का कहना है कि यदि महिला ने पैसे वापस नहीं किए ताे पुलिस कार्रवाई करवाएंगे। 

दरअसल, सिरसौद गांव में दुकानदार अनिल नागर के खाते से महिला का आधार नंबर लिंक हो गया। महिला को भी इस बात की जानकारी नहीं थी। कियोस्क सेंटर पर थंब इंप्रेशन मशीन से अलग-अलग दिन अंगूठा लगाकर कुल 3.10 लाख रुपए निकाल लिए। वहीं दुकानदार ने अपने खाते से रकम निकलने की शिकायत बैंक शाखा में जाकर ब्रांच मैनेजर को बताई और जांच कराने पर पता चला कि महिला का आधार दुकानदार के बैंक खाते से लिंक हो गया है। हालांकि अब बैंक अधिकारियों ने पुलिस की मदद से 85 हजार रुपए महिला से हासिल कर लिए हैं। लेकिन कर्जा चुकाने, बाइक व गहने खरीद लेने के बाद शेष रकम चुकाने में महिला अपनी माली हालत ठीक न होने की बात कहकर शेष रकम लौटाने में असमर्थता जता रही है। 

ट्रैक्टर बेचकर 3.50 लाख रुपए बैंक में जमा कराए थे, चेक देकर भाई को बैंक भेजा तब पता चला 
सिरसौद निवासी अनिल नागर पुत्र मथुरा प्रसाद नागर की कपड़ों की दुकान है। अनिल बताते हैं कि उन्होंने 3.50 लाख रुपए में अपना ट्रैक्टर बेचकर मध्यांचल ग्रामीण बैंक शाखा स्थित अपने खाते में जमा कर दी थी। छोटे भाई नरेंद्र नागर को 27 फरवरी को चैक देकर रुपए निकालने भेजा। बैंक से भाई का फोन आया कि खाते में पैसे नहीं है। अनिल पासबुक लेकर पहुंचे और एंट्री कराई तो खाते से 3.10 लाख निकल चुके हैं। बाद में खाते की जांच कराई तो गलत आधार नंबर लिंक मिला जो सिरसोना निवासी ममता कोली का पाया गया। 

हमने सोचा प्रधानमंत्री मोदी ने यह रुपए डाले हैं 
हमारा जनधन के तहत जीरो बैलेंस पर खाता खुला था। हमने सोचा प्रधानमंत्री मोदी ने यह रुपए डाले हैं। लोगों से लिया कर्ज लौटा दिया है। पति के लिए मोटर साईकिल खरीदी है। 
ममता कोली,निवासी सिरसोना 

मेरी बेटी की शादी 5 मई की है, मुझे पैसे चाहिए 
मेरी बेटी की 5 मई को शादी है। बेटी की शादी की तैयारियां करना है। इसलिए ट्रैक्टर बेचकर खाते में साढ़े तीन लाख रुपए जमा कराए थे। बैंक मेरा 3.10 लाख रुपया वापस दिलाए।
अनिल नागर, व्यापारी 

पैसे नहीं लौटाए तो हम पुलिस कार्रवाई करेंगे 
आधार नंबर गलत लिंक हो जाने से खाते से रुपए निकले हैं। पुलिस के साथ हम सिरसोना गांव में महिला के घर गए थे। 85 हजार रुपए लौटा दिए हैं जो अनिल नागर के खाते में जमा करा दिए हैं। शेष रकम नहीं लौटाए तो हम पुलिस कार्रवाई कराएंगे। 
अजय दंडौतिया, शाखा प्रबंधक, मध्यांचल ग्रामीण बैंक सिरसौद