Ad Code

सिंघारई के महंत का अकस्मात निधन अंचल में शोक की लहर | Badarwas, Shivpuri News

शिवपुरी। जिले की तहसील बदरवास के ग्राम सिंघारई में स्थित प्रसिद्ध माँ कंकाली धाम के महंत श्रीकृष्ण महाराज का दु:खद निधन मंदिर से अस्पताल ले जाते समय हो गया हैं। महंत के निधन पर शिवपुरी जिला सहित बदरवास, कोलारस के सैकड़ों ग्रामों में शोक की लहर दौड़ गई। उनके देहांत पर सैकड़ों ग्रामों से हजारों की संख्या में भक्तों ने आकर अंतिम संस्कार शामिल हुए। उनको मुखाग्नि उनके पुत्र अखिलेश शर्मा द्वारा दी गई। 

माँ कंकाली धाम के उप महंत भगवत स्वरूप ने बताया कि महंत श्रीकृष्ण महाराज का जन्म 1 मई 1956 को ग्राम अम्हारा में हुआ था तथा यहां बाल्ककाल से ही माँ की सेवा में समर्पित हो गए थे और माँ की भक्ती में ही लीन रहते थे। 

उन्होंने आगे यह भी बताया कि महंत बीमारियों से ग्रस्ति होने के कारण भी उन्होंने उपचार नहीं कराया और माँ की सेवा में एवं भक्तों के कल्याण हेतु अपना जीवन व्यतीत कर दिया। इस दु:ख की घड़ी में महंत जी के परिवार के साथ चन्द्रभान सिंह यादव, बैजनाथ सिंह यादव, महेन्द्र यादव, अजयराज शर्मा, सुशील रघुवंशी, योगेन्द्र यादव,  सुरेश, अवधेश बेड़िया, शिवनंदन आमोल सिंह पड़रया, करतार सिंह यादव, हरवीर सिंह, बंटी रघुवंशी, अशोक शर्मा तथा समाजसेवीगण एवं पत्रकारगणों ने ईश्वर से प्रार्थना की इस दुख की घड़ी में भगवान उनके परिवार को इतनी शक्ति प्रदान करे जिससे इस दु:ख को वह सहन कर सकें।