मुडखेडा टोल प्लाजा के चालू होते ही भाजपा जिलाध्यक्ष चौहान पर गुण्डागर्दी का आरोप | Shivpuri News

शिवपुरी। बीती रात्रि से जिले का मुडखेडा टोल प्लाजा प्रारंभ हो गया है। जिसके चलते अभी बिना टोल के गुजर रहे वाहनों को अब टोल चुकाकर गुजरना पड रहा है। इस टोल के प्रारंभ होते ही सबसे ज्यादा परेशानी रोज गुजरने बाली बस के चालकों को उठानी पड रही है। टोल के प्रारंभ होते ही सबसे पहला विबाद भाजपा के युवा मौर्चा के जिलाध्यक्ष मुकेश चौहान और बस संचालक रणवीर सिंह पर टोल प्लाजा कर्मीयों ने अभ्रदता और गुण्डागिर्दी करने का आरोप लगाया है। 

टोल प्लाजा के मैनेजर ने पुलिस थाना सुभाषपुरा में दिए आवेदन में बताया है कि कल रात्रि 12 बजे से केन्द्र सरकार ,एनएचएआई के नियमार्थ टोल प्लाजा प्रारंभ हुआ है। आज दोपहर लगभग 1 बजे शिवपुरी लोकल बसों के कुछ मालिक जो लोकल यूनियन के सदस्य भी है मुकेश चौहान और रणवीर सिंह टोल प्लाजा पर आए। आने के बाद वह टोल प्लाजा के स्टाफ से बसों को मुफ्त में निकालने की जिद करने लगे। 

जब टोल प्लाजा कर्मीयों ने नियमानुसार टोल चुकाकर जाने की बात कही तो उक्त दोनों गालीगलौच और टोल कर्मीयों से अभ्रदता पर उतारू हो गए। आरोप है कि उक्त लोगो ने टोल कर्मीयों को मुफ्त में बस न छोडने पर जान से मारने की धमकी देते हुए देख लेने की धमकी देते हुए बैरियल अपने हाथ से उठाकर बार बार अपनी बसें निकालते रहे। इस मामले के शिकायती आवेदन पर पुलिस ने मामले की जांच के बाद कार्यवाही का आश्वासन दिया है। 

विदित हो कि अभी जिले के कोलारस अनुविभाग के पूरणखेडी टोल प्लाजा पर हो रहे विबाद शांत होने का नाम नहीं ले रहे अब एक और टोल प्रारंभ हो जाने के पहले ही दिन से विबाद प्रारंभ हो गए है। अब देखना यह है कि इन टोल पर कांग्रेस के शासन में स्थानीय गाडीयों को कुछ छूट मिल पाती है या फिर यहां से गुजरने बाले लोगो को इस भारी भरकम टोल को चुका कर गुजरना पडेगा। 

यहां बता दे कि पूरण खेडी टोल पर भाजपा के तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान सहित भाजपा के युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष मुकेश सिंह चौहान सहित भाजपा के कई पदाधिकारीयों का यहां विबाद हो चुका है। अब दूसरे टोल के प्रारंभ होते ही अब यहां भी आए दिन विबाद सामने आएंगे। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics