Ad Code

Responsive Advertisement

प्यासे कंठो पर सकंट: 5 क्विंटल के बिजली के खंभे और 3 किमी लंबी लाईन काटकर गाडी में भर ले गए चोर | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। शिवपुरी के प्यासे कंठो के लिए सतनवाडा क्षेत्र से बुरी खबर आ रही हैं कि सतनवाड़ा से मड़ीखेड़ा डैम के बीच चल रहे मडीखेडा पेयजय योजना के लिए विछाई जा रही बिजली की लाईन 6 पोल जिनका वजन जिनका वजन लगभग 5 क्विंटल और 3 किमी लम्बी बिजली की लाईन बीती रात अज्ञात चोर कटर मशीन से काटकर गाडी में लादकर भर ले गए। चलते रास्ते में हुई चोरी से सतनवाडा थाने की ग्श्त व्यवस्था की भी पोल खुल गई हैं। 

बताया जा रहा है कि चोरो ने जो बिजली के पोल चोरी किए, उसके लिए वे कटर लेकर आए थे। जमीन में लगे पोलों को निचली सतह से काटकर अपने साथ ले गए। ठेकेदार खलील खान ने बताया कि चोरों ने तीन किमी लंबी बिजली की लाइन भी चोरी कर ली। उन्होंने बताया कि अभी काम अधूरा है। 

इसलिए उसमें करंट भी प्रवाहित नहीं हुआ था। यह जानने वाले चोर दोनों सामान चुरा ले गए। उन्होंने बताया कि मामले की जानकारी देने जब सतनवाड़ा थाने पहुंचे तो केस दर्ज नहीं किया गया। इससे पहले भी यहां जब चोरी हुई, तब भी पुलिस ने केस दर्ज करने की वजाय आवेदन लिया था, जिससे चोरों के हौसले बुलंद हो गए हैं।

विनैगा आश्रम से मड़ीखेड़ा डैम तक लाइन बिछाई जा रही है। इस लाइन को बिछाने का काम करीब दो साल से चल रहा है, लेकिन अब तक पूरा नहीं हो सका है। कभी सामान की कमी तो कभी अड़ंगे के चलते बिजली की लाइन नहीं बिछाई जा सकी है।

बार बार ट्रिप होती है मोटर

सतनवाड़ा फिल्टर प्लांट पर जो मोटरें लगी हैं। जो मोटर मड़ीखेड़ा इंटेकवेल पर लगी हैं, वे अभी ग्रामीण फीडर से संचालित की जा रही है, जिसके कारण चाहे जब बिजली गुल हो जाती है। नतीजे में पानी की सप्लाई तो बाधित होती ही है, तकनीकि तौर पर पानी का प्रेशर जब रिटर्न होता है तो लाइन भी बस्ट हो जाती है। शहरी फीडर से स्थाई बिजली का कनेक्शन होना बेहद आवश्यक है और चोरी ने काम में अड़ंगा डाल दिया है।