Ad Code

भतीजी की शादी में से लौट रही महिला से ट्रेन में 2 लाख की लूट, आरोपी दबौचे | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। खबर जिले के गोपालपुर थाना क्षेत्र से आ रही है। जहां पुलिस ने ट्रेन में लूट की बारदात के दौ आरोपीयों को दबौचा है। उक्त आरोपी महिला से 2 लाख के जेबर सहित नगदी लूट कर ले गए। ग्वालियर से गुना की तरफ जा रही ग्वालियर-दमोह पैसेंजर में सवार महिला का दो बदमाशों ने बैग लूट लिया। 

करीब दो लाख रुपए लूट की वारदात को अंजाम देकर दोनों बदमाश चलती ट्रेन से कूद गए। पाडरखेड़ा स्टेशन पर ट्रेन के रुकने के बाद आरपीएफ व गोपालपुर थाना पुलिस बदमाशों की तलाश में जुट गई। कुछ ही घंटों में दोनों आरोपियों को लूटे गए बैग के साथ गिरफ्तार कर लिया गया। एक आरोपी आगरा और दूसरा इटावा का रहने वाला है। गोपालपुर थाने में शून्य पर मुकदमा दर्ज कर जीआरपी ग्वालियर भेजा गया है। 

जानकारी के मुताबिक निर्मला पत्नी राजेंद्र सोलंकी निवासी सिसोदिया कॉलोनी गुना अपनी दो बेटियों व भाभी के साथ गुना जाने के लिए पैसेंजर ट्रेन में ग्वालियर रेलवे स्टेशन से बैठीं थीं। ग्वालियर-दमोह पैसेंजर ट्रेन में दो युवक शराब के नशे में थे जिन्होंने पाडरखेड़ा स्टेशन पहुंचने से एक किमी पहले बैग उठा लिया। महिला ने बैग पकड़ लिया तो बदमाश छीनकर चलती ट्रेन से कूद गए। लेकिन आरपीएफ पुलिस ने गोपालपुर पुलिस की मदद से दोनों बदमाशों को घेराबंदी कर दबोच लिया है।

पूछने पर आरोपियों ने अपना अपना नाम अमित (22) पुत्र लाखन सिंह राजपूत निवासी इटावा और विश्वनाथ (23) पुत्र घनश्याम राजपूत निवासी आगरा उत्तर प्रदेश बनाया है। लूटे गए सामान के साथ दोनों आरोपियों के खिलाफ थाना गोपालपुर में शून्य पर लूट की धारा 392 भादवि एवं 11, 13 एमपीडीपीके एक्ट के तहत अपराध कायम किया है। आरोपियों को गोपालपुर थाना प्रभारी एसआई अरूण प्रताप सिंह भदौरिया, एएसआई राणा, आरक्षक विवेक, सोनू, देवेंद्र, शिरोमणी की भूमिका रही। जीआरपी थाना प्रभारी दिलीप शर्मा ने बताया कि गोपालपुर थाना पुलिस और उनकी आरपीएफ टीम की घेराबंदी की वजह से बदमाश जल्द पकड़ लिए गए हैं। शून्य पर दर्ज मामला अब जीआरपी थाना ग्वालियर भेजा जा रहा है। 

भतीजी के शादी-समारोह से लौट रही थी महिला 

गुना निवासी निर्मला साेलंकी शादी समारोह में शामिल होने ग्वालियर में गईं थी। पति राजेंद्र सोलंकी ने बताया कि भतीजी की शादी में शामिल होकर पत्नी निर्मला, दोनों बेटियां भव्या और एकता, भाभी रामदुलारी के साथ पैसेंजर ट्रेन से लौट ही रहीं थीं। पाडरखेड़ा स्टेशन से ठीक पहले सुबह करीब 10 बजे दो बदमाश बैग लूट चलती ट्रेन से कूदकर भाग गए। पुलिस का अच्छा सहयोग रहा। बैग में एक छोटा हार, एक चेन वाला मंगलसूत्र एवं एक काले धागे का मंगलसूत्र, चार चूड़ियां एवं दो अंगूठी थीं, जो कि अब मिल गई हैं। इनकी कीमत करीब 2 लाख रुपए है।