Ad Code

Responsive Advertisement

करैरा का वीर सपूत राजकुमार यादव गुजरात बॉर्डर पर शहीद | karera News

करैरा। खबर जिले के लिए दुख भरी है। जिले के करैरा तहसील के एक छोटे से गांव ढंगा काली पहाडी के निवासी एक आर्मी का जवान गुजरात बॉर्डर पर शहीद हो गया है। इस खबर को सुनते ही पूरे जिले में शौक की लहर दौड गई है। 

जानकारी के अनुसार राजकुमार यादव निवासी ढंगा काली पहाडी की ज्योनिंग आर्मी में 29 जनवरी 2002 में हुई थी। उसके बाद राजकुमार यादव 18 यूनिट कुमाउं रेजीमेंट गुजरात बॉर्डर पर देश की रक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहा था। आज वह बोर्डर पर आंतकीयों की गोली लग गई। जिससे वह सीमा पर ही शहीद हो गए। 

बताया गया है कि उनके पार्थिव शरीर को कल ग्राम ढंगा में लाया जा सकता है। जहां उनको गार्ड आॅफ आॅनर से सलामी के साथ विदा किया जाएगा। राजकुमार अपने पीछे 2 बेटी रिया 8 साल और प्रिया 4 साल को छोडकर गए है। बताया गया है कि वह अपने तीन भाईयों में सबसे छोटे थे। जिन पर पूरे परिवार की जिम्मेदारी थी। इनके शहीद की खबर सुनकर पूरे गांव में शौक का माहौल निर्मित हो गया है।