Ad Code

हर्षोल्लास से मनाया ४१ वा राज्य कर्मचारी संघ का स्थापना दिवस

शिवपुरी। भारतीय मजदूर संघ का अनुसांगिक संगठन मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी संघ राष्ट्र वाद के सिद्धांत पर कार्य कर रहा है। इस संगठन में रहकर जो कार्यकर्ता शहर में कार्य कर रहे है। वह भारतीय मजदूर संघ को ग्रामीण क्षेत्रों की हर पंचायत स्तर तक पहुचाएं। उक्त बात मध्य प्रदेश राज्य कर्मचारी संघ के स्थापना दिवस के मौके पर सरस्वती शिशु मंदिर अस्पताल चौराहे पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में बीएमएस के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पूरन लाल बाथम ने कही। 

कार्यक्रम के मुख्य वक्ता पुरुषोत्तम गौतम, अध्यक्षता बीएमएस के विभाग प्रमुख रमेश शिवहरे, विशिष्ट अतिथि बीआरसीसी शिवपुरी अंगद सिंह तोमर, बीएमएस अध्यक्ष हरीश चौबे थे। कार्यक्रम का संचालन मुकेश आचार्य ने किया जबकि आभार व्यक्त अरुणेश रमन शर्मा ने किया।

कार्यक्रम का शुभारंभ आमंत्रित अतिथियों ने भगवान विश्वकर्मा जी के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित किया। ततपश्चात राज्य कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष अजमेर सिंह यादव ने अतिथियों का परिचय कराया। संघ का गीत सचिव दिलीप शर्मा ने सुनाया। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता पुरुषोत्तम गौतम ने कहा कि देश का सबसे बड़ा संगठन भारतीय मजदूर संघ है, उसकी अनुसांगिक इकाई मध्यप्रदेश राज्य कर्मचारी संघ है। उन्होंने कार्ल मार्क्स औऱ ही गेल के उपयोगिता के सिद्धांत की जानकारी दी। 

श्री गौतम ने आगे कहा कि यह संगठन है। जो राष्ट्र वाद पर आधारित है यही वजह है इसका तेजी से विस्तार हुआ है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे रमेश शिवहरे ने कहा कि राज्य कर्मचारी संघ भारतीय मजदूर संघ एक ही पद्धति पर कार्य करता है। यह संगठन देश हित में करेगे काम, काम के लेंगे पूरे दाम पर कार्य करके देश हित का काम कर रहा है। इस मौके पर कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि अंगद सिंह तोमर ने भी अपने विचार व्यक्त किए। इस मौके पर बड़ी संख्या में राज्य कर्मचारी संघ  के पदाधिकारी व कार्यकर्ता उपस्थित थे।