Ad Code

काले कानून के विरोध में BJP विधायक भारती,कहा इसें वापिस लेना चाहिए

शिवपुरी। पूरे देश में एससीएसटी एक्ट का विरोध चल रहा है। सवर्ण इसे काला कानून बता रहे है। जबकि सपाक्स इसके चलते विरोध प्रदर्शन कर नारेबाजी करते हुए उन्हें काले झण्डे दिखाए तथा उनसे मांग की कि वह एससी-एसटी एक्ट में संशोधन का विरोध करें। 

काले झण्डे देखकर प्रहलाद भारती एक दम चौक गए। और उन्होंने स्वीकार किया कि इस कानून का दुरूपयोग होने की संभावना है। इसे वापिस लिया जाना चाहिए। इस पर सपाक्स के युवाओं ने प्रहलाद भारती से उग्र लहजे में सवाल जवाब भी किए जिसका परिणाम यह हुआ कि श्री भारती कह उठे कि संशोधन का विरोध हो रहा है और मैं भी आपके साथ हूं। 

आरक्षण विरोधियों ने आज सुबह ही शिवपुरी में प्रहलाद भारती के घर पहुंचे और घर का घेराब करते हुए जमकर नारेबाजी की। अपने आपको माई का लाल बताते हुए आरक्षण विरोधी इस अवसर पर जमकर एससी-एसटी एक्ट के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे और उनके हाथों में विरोध स्वरूप तख्तियां तथा काले झण्डे थे। रोष व्यक्त करते हुए युवाओं ने प्रहलाद भारती से सरकार के इस काले कानून की निंदा करने के लिए कहा और स्पष्ट रूप से उनसे कहा कि वह क्षेत्र के जनप्रतिनिधि हैं और उन्हें इस काले कानून के विरोध में सत्ता के सुख को छोडक़र आगे आना चाहिए।

युवाओं की टीम का यह भी आक्रोश था कि 795 जनप्रतिनिधियों के संसद में बैठने के बाद भी यह काला कानून लागू कर दिया गया। यहां बता दें कि इससे पूर्व सपाक्स द्वारा राज्यमंत्री दर्जा प्राप्त राजू बाथम को भी काले झंडे दिखाए थे।