ads

Shivpuri Samachar

Bhopal Samachar

shivpurisamachar.com

ads

जलक्रांति सत्याग्रह: पांचवे दिन Radiant College सहित कई संगठनों ने दिया समर्थन

शिवपुरी। सिंध के पानी को घर-घर तक टोंटियों तक पहुंचाने और दोषियों पर एफआईआर दर्ज कराने की मांग लेकर समाजसेवी संस्था पब्लिक पार्लियामेंट द्वारा शुरू किया गया जल क्रांति सत्याग्रह आज पांचवे दिन भी जारी है। जहां पांच लोगों ने क्रमिक भूख हड़ताल शुरू कर दी है। कल चौथे दिन धरने पर शैलेष शर्मा और सत्यम नायक बैठे थे। जहां मध्यप्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ, राज्य अध्यापक संघ तथा सपाक्स संस्था ने अपना पत्र देकर जल क्रांति को समर्थन दिया। 

वहीं रात्रि में सिंध जलावर्धन योजना के सफल क्रियान्वयन की कामना के लिए गोपाल गौड़ मित्र मंडल द्वारा सुंदरकाण्ड का आयोजन किया गया था। वहीं आज पब्लिक पार्लियामेंट द्वारा शहर भर में अभियान से जुडऩे के लिए पर्चे भी बंटवाए हैं जिसमें उन्होंंने जनता से अपील की है कि वह अपने हक के लिए चुप न बैठें। उन्होंंने पर्चे में यह भी उल्लेख किया है कि यदि हम गलत हैं तो विरोध करें और सही है तो साथ दें, परंतु चुप न बैठें और जल क्रांति सत्याग्रह की आवाज को बुलंद करने में अपनी भूमिका सुनिश्चित करें। 

आज क्रमिक भूख हड़ताल पर वार्ड क्रमांक 1 के अभिषेक विद्रोही, ब्रजेश कुशवाह, रीतेश शाक्य, राजकुमार पाल, गजेंद्र ओझा बैठे हैं। इस दौरान रेडियेंट कॉलेज के संचालक स्टाफ और कॉलेज के छात्र-छात्राएं नगर हित में किया जा रहे आंदोलन में अपना समर्थन देने पहुंचे और पब्लिक पार्लियामेंट को आश्वस्त किया कि सभी शैक्षणिक संस्थाओं के अनेक छात्रों छात्राएं उनके इस अभियान में शामिल होकर समर्थन देंगे और जनहित के इस पुनीत कार्य में अपनी सहभागिता निभाएंगे। 

रेडियेंट कॉलेज के संचालक शाहिद खान अपने स्टाफ और छात्रों के साथ मंच पर पहुंचे और सिंध जलार्वधन योजना की रूकावट के लिए दोशियों पर कार्यवाही की मांग की। रेडिय़ेंट कॉलेज के संचालक शाहिद खान अपने स्टाफ ने मंच पर पहुंचकर कहा कि भविष्य में उनसे जो भी सहयोग की आवश्यकता होगी वह हर सहयोग करने उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर उनके साथ खड़े रहेंगे। 
Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 Comments: