बडी खबर: मजदूरों से भरी आयशर पलटी, 4 की मौत, 2 दर्जन घायल | POHRI NEWS

शिवपुरी। जिले के पोहरी थाना क्षेत्र के तहत पिपरघार की घाटी पर मजदूरों से भरी एक आयशर पलट गई। आयशर के पलट जाने से उसमें सवार करीब दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए और 4 की मौत हो गई। जिनकी मौत हुई उसमें एक महिला और दो बच्चियां हैं। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और घायलों को पोहरी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाया एवं गंभीर घायलों को जिला अस्पताल रैफर कर दिया। 
पोहरी थाना प्रभारी राजेंद्र शर्मा ने बताया कि  उन्हें सुबह लगभग 5:30 बजे सूचना मिली कि पिपरघार की घाटी के पास एक मजदूरों से भरा आयशर ट्रक पलट गया है। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई तो देखा कि आयशर ट्रक में मजदूर सवार थे जो जौरा-मुरैना से फसल काटकर वापस शिवपुरी आ रहे थे तभी यह हादसा घटित हो गया। 
सूचना पर थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे और देखा कि आयशर में करीब 38 लोग सवार थे। जिसमें से झींगों पत्नी तोरण आदिवासी उम्र 55 वर्ष ए अंजना पुत्री मोहन सिंह आदिवासी उम्र 12 वर्ष, रतिया पुत्री राजकुमार आदिवासी उम्र 2 वर्ष, श्रीपत उम्र 43 वर्ष की मौत हो चुकी थी। 

घटना में यह हुए घायल
घटना में मंगल पुत्र ग्रेस आदिवासी 4 वर्ष निवासी वेरकून थाना छर्च, रामरूप पुत्र श्रीपत आदिवासी 20 वर्ष निवासी गोरस, देशराज पुत्र श्रीपत आदिवासी 18 वर्ष निवासी धौलागढ, श्रीपत पुत्र छीतू आदिवासी 40 वर्ष, लक्ष्मी पत्नी रामरूप आदिवासी 34 वर्ष निवासी कोतवाली, मुस्कान पुत्री रामरूप 4 माह, रामरूप आदिवासी पुत्र सिया 20 वर्ष निवासी कोलापुर थाना पोहरी घायल हुए है। 

इसके अतिरिक्त सोनीराम पुत्र टोरा आदिवासी 22 वर्ष कोलारस थाना पोहरीए गुलशन पुत्र सीताराम 8 वर्ष निवासी धौलापुर, राजकुमार पुत्र मोहन आदिवासी 18 वर्ष निवासी कोलापुर, रामप्रसाद पुत्र रामदयाल 33 वर्ष निवासी कोलापुर, रामवरन पुत्र रामप्रसाद 12 वर्ष निवासी कोलापुर, प्रेमबती पत्नी नरेश आदिवासी 25 वर्ष निवासी कोलापुर, अजमेर पुत्र शिवचरण 18 वर्ष, गायत्री पत्नी राकेश आदिवासी 22 वर्षए सूरेशी पत्नी सीताराम 20 वर्ष,कमलबती पत्नी रामकेश 25 वर्ष, मघला पुत्र रामप्रसाद 16 वर्ष घायल हो गए। 
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics