BADARWAS में ई-अटेंडेंस के विरोध में दिया मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन

बदरवास। शासन द्वारा 2 अप्रैल से शिक्षकों की उपस्थिति हेतु ऑनलाइन हाजिरी ई अटेंडेंस लागू की जा रही। इस ई अटेंन्डेन्स एम शिक्षा मित्र ऍप का विरोध कर इसे स्थगित करने हेतु अध्यापक, शिक्षक संयुक्त मोर्चा के बैनर तले सैकड़ों की संख्या में एकत्रित होकर अध्यापकों ने मुख्यमंत्री के नाम बदरवास जनपद पंचायत के सीईओ एमके जैन को ज्ञापन पत्र सौंपा।


ज्ञापन में कहा गया कि शिक्षक का पद समाज में सम्मान का प्रतीक है और इस ऍप से उनके सामाजिक सम्मान को ठेस पहुंचेगी। ई अटेंडेंस सिर्फ शिक्षा विभाग में ही  लागू न करते हुए सभी विभागों को इसके दायरे में लाया जाना चाहिए। ज्ञापन में मांग की गई है कि एम शिक्षा मित्र लागू करने से पहले अध्यापकों और शिक्षकों की लंवित समस्त मांगों को पूरा किया जाए जिसमें शिक्षा बिभाग में संविलियन के आदेश, बीमा, पेंशन ,अनुकंपा नियुक्ति, बंधनरहित स्थानांतरण नीति, समयमान वेतनमान आदि मांगें शामिल हैं।

ई अटेंडेंस में आने वाली व्यवहारिक और तकनीकी खामियों को तुरंत दूर किया जाए व शिक्षकों को मोबाइल उपकरण, डेटा बैलेंस सुविधा शासन द्वारा मुहैया कराए जाने की व्यवस्था की जाए। शिक्षकों का कहना था कि मोबाइल में तकनीकी समस्या आदि आने तथा ग्रामीण क्षेत्रों में  बिजली और नेटवर्क प्रॉब्लम होने के कारण कई बार शिक्षक समय पर पहुंचने के बावजूद उपस्थिति दर्ज नहीं करवा पाएंगे अतः ई अटेंडेंस को स्थगित किया जाए। शिक्षकों पर इस तरह की एकतरफा नियम लादना किसी भी स्थिति में व्यवहारिक नहीं है।

ज्ञापन के पूर्व ब्लॉक परिसर में सभी अध्यापक और शिक्षकों ने सैकड़ों की संख्या में एकत्रित होकर ई अटेंन्डेन्स के खिलाफ नारेवाजी करते हुए मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन बदरवास जनपद पंचायत के सीईओ एमके जैन को ज्ञापन सौंपा। इस अवसर पर बीरेंद्र रघुवंशी, शैतानसिंह यादव, गोविन्द अवस्थी, मनीष बैरागी, कपिल परिहार, माताप्रसाद सजोनिया, ऋषि शास्त्री, जितेंद्र शर्मा,मीना शर्मा, राजेश नामदेव, पंचम कुशवाह जगन्नाथ जाटव,शशिभूषण श्रीवास्तव, रविन्द्र चौरसिया,अनिल गुप्ता,इंद्रपाल यादव,मालसिंह बघेल, हेमंत अग्रवाल,मालती महते, सरिता तोमर, राधा कुशवाह, मनोज गोस्वामी, आशा सजोनिया, सेवकराम चंदेल ब्रह्मानंद शर्मा ,अरविंद कुशवाह, आशा राठौर, विनीत श्रीवास्तब, रघुनाथ जाटव,मदन श्रीवास्तव, हरिओम शर्मा,महेंद्र राजपूत, श्रीपाल यादव,रश्मि कुशवाह, धर्मेंद्र केलोदिया,अरविंद कुशवाह,कांति ओझा,मुकेश खटीक,विजय साहू,कुलदीप गौड़, राजकुमार शर्मा, गुंटा सोनारे, रामनिवास शर्मा,भीकम कुशवाह,राकेश मेहता, रामेश्वर माते घनश्याम कुशवाह, राजेश ओझा,राधारानी शर्मा, अर्चना रोसवेक,हरिओम शर्मा, कालूसिंह दांगी,,जीताराम, अनिता मिंज,गोपालसिंह जाट, मुन्ना जाट, देवमणि भगत,दुर्गाप्रसाद सोलंकी, अखिलेश साहू, गायत्री शरनागत,सुरेखा कावले, सहित बड़ी संख्या में शिक्षक और अध्यापक उपस्थित थे।

दुर्घटना में मृत अध्यापक को दी श्रद्धांजलि
ज्ञापन कार्यक्रम के दौरान जैसे ही ईशरी गाँव पर एक ट्रक दुर्घटना में अध्यापक साथी महेंद्र यादव के मृत होने की सूचना मिली तो ज्ञापन कार्यक्रम रोककर उपस्थित सभी शिक्षकों ने मृतात्मा के शांति हेतु मौन धारण कर श्रद्धांजलि अर्पित की।
Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

Loading...
-----------

analytics