किसानों के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं होगा: रामबाबू शिवहरे - Shivpuri Samachar | No 1 News Site for Shivpuri News in Hindi (शिवपुरी समाचार)

Post Top Ad

Your Ad Spot

12/31/2011

किसानों के साथ अन्याय बर्दाश्त नहीं होगा: रामबाबू शिवहरे

शिवपुरी-सरकार ने किसानों के प्रति वादाखिलाफी की है इसका जीता-जागता उदाहरण किसानों को खाद-यूरिया, खसरा-खतौनी, कृषि मण्डियों में हो रही लूट खसोट, बेहिसाब विद्युत कटौती, वन भूमि पर बसे आदिवासियों को भूमि का पट्टा न देना मुख्यमंत्री महोदय ने 800 रूपये प्रति हॉर्स पावर के हिसाब से पम्प का वार्षिक बिल देने की बात कही थी लेकिन एक वर्ष पूर्ण होने के बाद भी किसानों को आज तक लाभ नहीं मिल सका है। 


मप्र सरकार एक तरह से किसानों का शोषण कर रही है जो कि बर्दाश्त योग्य नहीं है यदि समस्याओं पर सरकार ने ध्यान नहीं दिया तो किसान संघ सड़कों पर आकर आन्दोलन करने को बाध्य होगा। यह जोशीला उद्बोधन दे रहे थे कोलारस नगर में आयोजित भारतीय किसान संघ के द्वारा  आयोजित प्रदर्शन में ब्लॉक अध्यक्ष रामबाबू शिवहरे जो किसानो को एक साथ संगठन की तरह रहकर अपनी मांगे पूर्ण कराने पर जोर दे रहे थे।

भारतीय किसान संघ द्वारा प्रदेश सरकार के खिलाफ कई समस्याओं को लेकर बिगुल फुंका गुया है। अभी कुछ दिनों पहले शिवपुरी, नरवर व अन्य तहसीलों पर प्रदर्शन किया गया। इसी क्रम में कोलारस में भी भारतीय किसान संघ के बैनर तले सभा का आयोजन किया गया जिसमें जिलाध्यक्ष पवन शर्मा भाटी ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि शिवराज सरकार ने किसानों के साथ छलावा किया है इस छलावे का अन्नदाता किसान समय आने पर मुंहतोड़ जबाब देने से पीछे नहीं रहेगा। इस अवसर पर कोलारस भारतीय किसान संघ ने किसानों के शोषण के विरूद्ध 11 सूत्रीय ज्ञापन के माध्यम से मण्डी प्रांगण में कोलारस में प्रदर्शन किया और हजारों किसानों की संख्या में समस्याओं के निराकरण के लिए ज्ञापन सौंपकर इन्हें पूर्ण करने की मांग की। मण्डी प्रांगण से एक विशाल रैली के रूप में सैकड़ों दो पहिया वाहन टे्रक्टर, ट्रॉलियों सहित हजारों किसान गगनभेदी नारे लगाकर चल रहे थे। 

इस प्रदर्शन में संघ के जिलाध्यक्ष पवन शर्मा, संगठन मंत्री मनीष शर्मा, ब्लॉक अध्यक्ष रामबाबू शिवहरे, रामबीर भाई, भगवत सिंह दांगी, मालम सिंह लोधी, भोलाराम, लल्लराम, रामकृष्ण, मुन्ना लाल, रामकुमार रघुवंशी, महेश शिवहरे, हल्केराम कुशवाह, विनोद गौड़, हरिशंकर, विशम्भर दयाल शर्मा, रामबाबू रघुवंशी, राज्यपाल सिंह आदि सहित हजारों की संख्या में किसान मौजूद थे।

No comments:

Post Top Ad

Your Ad Spot