Tuesday, June 06, 2017

प्यासे कंठ और रीते घड़े, कर लो कट्टी ईकठ्ठी: फिर पकडा दी सिंध की नई तारीख

शिवुपरी। शिवपुरी नगर की लाईफ लाईन सिंध जलावर्धन योजना की तारीख फिर आगे खिसक गई है। जिस तरह से कंपनी अपना काम पूरा करने की तारीख आगे बढा रही है उससे देखकर लगता है कि कल लो कट्टी ईकठ्ठी अभी नही आ रही है सिंध। अपने वादो से फिर मुकरते हुए काम पूरा करने की नई तारिख आ गई है। जैसा की विदित है कि सतनवाड़ा तक पानी लाने की तारीख पहले 15 मई फिर 30 मर्ई और सप्ताहभर पहले यशोधरा राजे द्वारा निरीक्षण करने के दौरान 6 जून बतार्ई गई लेकिन आज 6 जून को भी सतनवाड़ा फिल्टर प्लांट पर पानी नहीं पहुंचा। 

दोशियान कंपनी के जनरल मैनेजर महेश मिश्रा और मुख्य नगर पालिका अधिकारी रणवीर कुमार अब कह रहे हैं कि सतनवाड़ा 14 जून तक सिंध का पानी पहुंचेगा। जहां तक शिवपुरी पानी आने की बात है तो कम से कम दो माह  इस काम में लगेंगे। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार यशोधरा राजे के मड़ीखेड़ा दौरे के दौरान विगत माह दोशियान के अधिकारियों ने उन्हें बताया था कि इंटेक बैल में तीनों पंप तीन दिन के भीतर लग जाएंगे। लेकिन अभी भी तीसरा पंप नहीं लगा है। बिजली का कनेक्शन भी अभी नहीं लिया गया है और इंटेक बैल से चाड़ तक पाईप लाईन लेमीनेशन का कार्य अभी पूरा होना है। 

लाईन टेंस्टिंग में भी अभी तमाम बाधा है। इन सबके बाद भी दोशियान कंपनी ने एक बार फिर से वायदा किया है कि 14 जून तक वह सतनवाड़ा फिल्टर प्लांट तक सिंध नदी का पानी पहुंचाने में सफल रहेंगे। हालांकि फिल्टर प्लांट पर भी अभी काफी काम बांकी है। अभी तक दोशियान कंपनी की जो ख्याति रही है उससे पानी आने में तमाम आशंकायें नजर आ रहीं हैं। 

दोशियान कंपनी के पूर्व महाप्रबंधक योगेन्द्र मकबाना ने एक समाचार पत्र से की गई चर्चा में बताया कि कंपनी के पास कोर्ई टेक्निकल स्टाफ नहीं है और उसकी आर्थिक हालत इतनी खराब है कि कर्मचारियों को देने के लिए पैसे नहीं है। जबकि दोशियान कंपनी प्रदेश सरकार से लगभग 70 करोड़ रूपया वसूल कर चुकी है। 

कंपनी कहीं भी पानी देने में असफल रहीं है और उनका कहना है कि मुझे नहीं लगता कंपनी शिवपुरी में भी पानी ला पाएगी। कंपनी द्वारा जो लगातार बायदा खिलाफी की जा रही है और हर रोज नर्ई डेड लार्ईन बतार्ई जा रही है। उससे पूर्व महाप्रबंधक की बातों को एक दम से खारिज नहीं किया जा सकता। सवाल यह है कि ऐसी स्थिति में शासन और प्रशासन दोशियान कंपनी पर दवाब डालकर उसे प्रोजेक्ट पूरा करने के लिए विवश कर पाएगी अथवा नहीं । 

शिवपुरी पानी लाने की डेड लार्ईन 30 जून दी गर्ई थी
यशोधरा राजे के मड़ीखेड़ा निरीक्षण के दौरान दोशियान कंपनी के अधिकारियों ने उन्हें बताया था कि 30 जून तक शिवपुरी सिंध का पानी पहुंच जाएगा, लेकिन वर्तमान में जो काम की गति चल रही है उसे देखते हुए नहीं लगता कि तीन माह से पहले शिवपुरी पानी आ पाएगा। 

सतनवाड़ा फिल्टर प्लांट से शिवपुरी तक 160 पिलर निर्माण का कार्य होना है जिनमें से ठेकेदार के अनुसार अभी तक महज 70 पिलरों का निर्र्माण हो पाया है। 

इनका कहना है।
वर्तमान में काम की गति को देखते हुए कहा जा सकता है कि मडीखेड़ा से फिल्टर प्लांट तक 14 जून तक पानी पहुंच जाएगा। लेकिन शिवपुरी आने में अभी समय लगेगा। 
रणवीर कुमार मुख्य नगर पालिका अधिकारी