Monday, June 26, 2017

नाले पर बनने जा रहा है संभाग का पहला डेम, 40 करोड़ स्वीकृत, डीपीआर हुई तैयार

शिवपुरी। अभी तक नदियो पर डेम बनाए जाते थे और उनसे खेती के लिए पानी उपयोग में लिया जाता है। जिन गांवो से नदियां नही निकलती थी,उन गांवो की भूमि बिना नहरो के रहती थी,लेकिन शिवपुरी विधायक और प्रदेश मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने खेतो की सिंचाई के लिए एक ऐसा प्रोजेक्ट तैयार करवाया जिससे,जिन गांवो से नदियां नही निकलती थी उन गांवो के खेत अब बिना पानी के नही रहेगें। 

शिवपुरी ब्लॉक के अंतर्गत आने वाले ग्राम दर्रोनी के रेपी नाले पर 40 करोड़ रुपए की लागत से एक बड़ी जल संरचना (डैम) का निर्माण होने जा रहा है। इससे ब्लॉक के 25 से अधिक गांवों को सिंचाई के लिए नहर से पानी देकर सिंचित रकबे में बढ़ोतरी की जाएगी।

इससे गांवों के वाटर लेवल में भी लाभ होगा। इसके लिए दर्रोनी गांव में 288 बीघा शासकीय जमीन का सर्वे कार्य कर डैम के बनाने के लिए उसे चिन्हित कर लिया गया है। इस काम की डीपीआर तैयार कर विभाग के पास स्वीकृति के लिए भेज दी गई है। जल्द ही डैम निर्माण का कार्य यहां शुरू किया जाएगा। 

नाले पर डैम बनाने का ये है पहला मामला 
ये अपने आप में एक अनोखा प्रोजेक्ट है। यहां नाले पर डैम बनाने का ये पहला मामला है। संभाग भर में कहीं भी नाले पर 40 करोड़ रुपए खर्च कर डैम नहीं बनाया गया है। सिचाई विभाग का कहना है कि ये प्रयोग अगर यहां सफल हो गया तो प्रदेश के कई बड़े नालों पर ये प्रयोग किया जाएगा। जिससे गांवों के लोगों को ही ऐसी संरचनाओं का लाभ मिल सके। 

25 गांवों को मिलेगा लाभ 
रेपी नाले पर बनाए जा रही जल संग्रहण संरचना से दरोनी ग्राम पंचायत के आस पास सहित अन्य 25 से अधिक गांवों को सिंचाई के लिए पानी मिलने सहित जल स्तर ऊपर आने में लाभ मिलेगा। जिनमें दर्रोनी, रामखेड़ी, जसराजपुर, ठर्रा, हाजीखेड़ी, पुरनखेड़ी, ठर्री, छार, कुड़ावदा, कबीरखेड़ी, ख्यावदाकला, करमाजकला, करमाजछोटी, खेरी, ईटमा सहित 25 से अधिक गांवों को इस डैम से लाभ मिलेगा। 

सर्वे का कार्य खत्म डीपीआर हुई तैयार 
ग्राम पंचायत दर्रोनी में रेपी नाले पर पूर्व दिशा में बनाए जा रहे 40 करोड़ की लागत से डैम का सर्वे कार्य पूरा कर लिया गया है। इसके अलावा गांव में 288 शासकीय भूमि भी चिह्नित कर डैम के निर्माण के लिए डीपीआर संबंधित विभाग द्वारा तैयार कर ली है। इसके अलावा जल्द ही निविदाएं जारी कर डैम निर्माण का कार्य किसी निर्माण कंपनी को सौंपा जाएगा। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।