Saturday, June 24, 2017

सीमांकन के एवज में पटवारी मांग रहा था 20 हजार की रिश्वत, लोकायुक्त ने दबौचा

सोनू झा रन्नौद। जिले के रन्नौद थाना क्षेत्र के रन्नौद तहसील के बामौरकला में पदस्थ एक पटवारी को लोकायुक्त ने दबौच लिया है। पकड़ा गया पटवारी एक किसान से नामातंरण के एवज में 20 हजार रूपए की मांग कर रहा था। जो मामला 18 हजार रूपए में डील हुआ। और आरोपी पटवारी को आज लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथों दबौच लिया है। 

जानकारी के अनुसार रन्नौद तहसील के रन्नौद कस्बे में ही ग्वालियर निवासी जितेन्द्र भदौरिया की जमींन है। अभी इस जमींन का सींमाकन नहीं हुआ है। बीते कुछ दिनों पहले जितेन्द्र भदौरिया ने इस मामले के सींमाकन के लिए हल्का नंबर 46 पर पदस्थ पटवारी चंदन वर्मा से संपर्क किया। 

जिस पर चंदन वर्मा ने कहा कि इस काम के एबज में 20 हजार रूपए की रिश्वत देनी होगी। जिस पर फरियादी ने उक्त मामला 18 हजार मे डील हुआ। इस पूरी बातचीत की जितेन्द्र ने ऑडियों रिकोर्डिंग कर लोकायुक्त में शिकायत की। लोकायुक्त में शिकायत के बाद आज फरियादी द्वारा लेनदेन के लिए जगह की पूछा तो उक्त पटवारी ने तहसील कार्यालय में ही आ जाने की बात कही। 

जिस पर जैसे ही जितेन्द्र ने रूपए दिए लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथों दबौच लिया। जब आरोपी के हाथ धुलवाए तो रंग निकलने लगा। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर जमानत पर छोड़ दिया है। इस कार्यवाही को अंजाम देने लोकायुक्त की टीम में पीके चतुर्वेदी प्रभारी, टीआई राजीव गुप्ता, एसआई आरएस कुशवाह,आरक्षक धनंजय पाण्डे,मोहमद आशिक, धीरज नायक, बलवीर सिंह, उपस्थिति थे। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।