Monday, May 22, 2017

रिश्वत लेते हुए फूड इंस्पेक्टर हनुमान मित्तल गिरफ्तार, श्योपुर में चलाता है कोंचिंग

शिवपुरी। अभी- अभी खबर आ रही है कि शहर के सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले परिवार पर स्थित एक मिष्ठान भंडार की दुकान पर फूड इंस्पेक्टर को लोकायुक्त की टीम ने रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों दबौच लिया है। लोकायुक्त की टीम मामले की जांच में जुटी हुई है।  जानकारी के अनुसार शहर में संचालित सुमन बेकरी के संचालक गोपाल राठौर पुत्र बालकिशन राठौर निवासी फिजिकल की शहर में सुमन बेकरी के नाम से 3 बेकरी संचालित होती हैं। जिस पर लगभग 1 माह पहले जिले में पदस्थ फूड इंस्पेक्टर हनुमान मित्तल सैंपल लेने जा पहुंचे। बैकरी से सेम्पल लेने के बाद फूड इस्पेक्टर हनुमान मित्तल ने बेकरी संचालक को सेम्पल फेल करने की धमकी दी। इस एवज में सेम्पल को पास कराने के लिए 5 हजार रूपए की मांग की। साथ ही हर महीने ढाई हजार रूपए हप्ता बसूली के नाम पर मांगे। 

गोपाल राठौर ने डर के चलते उक्त फूड इस्पेक्टर को ढाई हजार रूपए तत्काल दे दिए साथ ही ढाई हजार रूपए की अगली किस्त एक माह में देने की बात कही। तीन दिन पहले फूड इस्पेक्टर ने बेकरी संचालक को कॉल कर दूसरी किस्त की मांग की। जिसपर बेकरी संचालक ने इस पूरे घटनाक्रम की शिकायत लोकायुक्त ग्वालियर में की। 

गोपाल को टेप रिकॉर्डर देकर लोकायुक्त की टीम ने पहुंचाया जिस पर आरोपी हनुमान मित्तल ने सावधानी बरतते हुए गोपाल को पोहरी बस स्टेण्ड पर स्थिति बैष्णबी मिष्ठान भंडार पर बुलाया और वहां ढाई हजार रूपए की रिश्वत दी। रिश्वत देते ही गोपाल की तरफ से इशारा करने पर तुरंत लोकायुक्त की टीम ने फूड इस्पेक्टर को दबौच लिया। 

लोकायुक्त की टीम ने आरोपी फूड इंस्पेक्टर की पेंट की जेब से ढाई हजार रुपए बरामद कर लिए साथ ही हाथ धुलाने पर हाथ रंगे पाए गए। इस कार्यवाही को अंजाम देने लोकायुक्त की टीम मेंं निरीक्षक अतुल सिंह, निरीक्षक कविंद्र सिंह , आरक्षक बलवीर सिंह , आरक्षक धीरज सिंह , छीर सागर कोतवाली से विजय रावत  सहित लोकायुक्त की टीम रही जो खबर लिखे जाने तक सर्किट हाउस में कार्यवाही में जुटी हुई है। 

श्योपुर में कोंचिंग चलाता है,यहां सिर्फ बसूली के लिए आता था फूड इस्पेक्टर
आज शिवपुरी के बस स्टेण्ड से लोकायुक्त की टीम द्वारा दबौचा गया फूड इंस्पेक्टर श्योपुर में फिजिक्स और मेथ्स की रेग्यूलर क्लास संचालित करता है। इस बात की खबर पहले भी शिवपुरी समाचार डॉट कॉम प्रकाशित कर चुका है। उसके बाद भी सीएमएचओ द्वारा उक्त फूड इस्पेक्टर को खुली छूट प्राप्त थी। जिससे इस पर आज तक कोई भी कार्यवाही नहीं हुई। उक्त कोचिंग संचालक फूड इस्पेक्टर शिवपुरी में महज बसूली के लिए ही आता था।