एमईवी के कस्टर एमईवी की कार्यप्रणाली से, कष्ट में

शिवपुरी। एमईवी की लचर कार्यप्रणाली के चलते शहर के इनके कट मे देखे जा सकते है। शहर में हो रोज फाल्टो के कारण और कटौती के कारण आमजनो में नाराजगी है।

पिछले दिनों कमलागंज और सरक्यूलर रोड के वाशिंदों की गायब बिजली शिकायत करने के घंटों बाद भी नहीं सुधारी गई। परेशान लोगों द्वारा कई बार शिकायत की गई मगर सुधारने की पहल नहीं की गई। ऐसा बर्ताव अधिकतर कस्टमरो के साथ हो रहा है।

सरकुलर रोड पर ट्रांसफार्मर खराब होने के बाद इस क्षेत्र में रहने वाले सौ से ज्यादा परिवारों की बिजली गायब हो गई। परेशान लोगों ने माधव चौक पर चाबी घर फोन लगाया, लेकिन फोन रिसीव नहीं हुआ। पीडि़त लोगों ने चाबी घर पहुंचकर समस्या एक कर्मचारी को नोट कराई मगर दो दिन बाद ट्रांसफार्मर बदला गया।  

परेशान लोगों ने बताया कि जब वह माधव चौक स्थित चाबी घर पहुंचे तो वहां मात्र एक कर्मचारी इस केंद्र पर मौजूद था। इस कर्मचारी ने ट्रांसफार्मर सही करने के मामले में वरिष्ठ अधिकारियों से बात करने की कहकर पल्ला झाड़ लिया।

परेशान लोगों की समस्या का समाधान 30 से 35 घंटे तक नहीं हो सका। उन्होंने बिजली न मिलने पर तमाम तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ा। इस तरह की परेशानियां प्रतिदिन बिजली कस्टमरो को आ रही हैं। स्थानीय स्तर पर समस्याओं के समाधान के लिए कोई कस्टमर केयर सेंटर नही है। माधव चौक स्थित जो जो चाबी घर है वहीं पर अव्यवस्थित तरीके से बिजली सुधार का काम कर्मचारियों के माध्यम से होता है। यहां व्यवस्थित कंट्रोल रूम नहीं है, इसलिए परेशानियां आ रहीं हैं।

माधव चौक स्थित चाबी घर पर आरएपीडीआरपी योजनांतर्गत 13 लाख रुपए की लागत से कस्टमर केयर सेंटर बनना था, लेकिन ठेकेदार द्वारा निर्माण में देरी से अभी तक यह सेंटर नहीं बन सका है। सेंटर का निर्माण धीमा होने से चाबी घर पर एक कमरे से अस्थाई तौर पर कंट्रोल रूम चल रहा है। यहां पर उपभोक्ताओं की समस्याएं दर्ज होती हैं, लेकिन निराकरण के लिए कोई ध्यान नहीं दिया जाता।
           

Share on Google Plus

About KumarAshish BlogManager

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.