Ad Code

फर्जी मुठभेड़ कांड में आरोपी बनाए गए पुलिस दरोगा राज्य को न्यायालय ने भेजा जेल | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। अप्रैल 2006 में करैरा के पपरेडू में डकैत उमाराव बुंदेला से हुई मुठभेड़ काण्ड में आरोपी बनाए गए पुलिसकर्मी एसआई राजवीर सिंह गुर्जर तथा आरक्षक राघवेन्द्र शुक्ला में से आज एसआई राजवीर गुर्जर को करैरा के जेएमएफसी कोर्ट में पेश किया गया जहाँ से उन्हें 12 अप्रैल तक जेल भेजने का आदेश दिया गया। 

इसी बीच देर शाम होते होते एसआई राजवीर गुर्जर को स्वास्थ्य खराब होने के चलते जिला चिकित्सालय में भर्ती करा दिया गया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 3 अप्रैल 2006 को करैरा थाने के एसआई राजवीर सिंह गुर्जर एवं आरक्षक राघवेन्द्र शुक्ला को सूचना मिली कि डकैत उमाराव बुंदेला एवं हेमराज नट को ग्राम पपरेडू के नारायण सिंह रावत, सुमेर सिंह रावत के डेरा एवं गन्ने के खेतों की तरफ  जाते देखा गया है। पुलिसकर्मी जब वहां पहुंचे तो एक व्यक्ति सुमेर सिंह के खेत की तरफ भागा। उसी समय डकैतों की ओर से फायर किए गए तो आरक्षक राघवेन्द्र शुक्ला ने भी फायर कर दिया।

इस पर वहां मौजूद तीन व्यक्ति डरकर रुक गए उनमें से एक गोली लगने से घायल था जिसने अपना नाम हाकिम सिंह रावत बताया दूसरे ने परमाल सिंह रावत और तीसरे ने जितेन्द्र रावत। बाद में एसआई राजवीर सिंह की रिपोर्ट पर डकैत उमाराव बुंदेला एवं हेमराज नट के खिलाफ  धारा 307 का मामला दर्ज किया गया। 

डकैत उमराव व हेमराज नट के फरार होने से उनके खिलाफ  धारा 299 के तहत आवेदन प्रस्तुत किया गया। उसी दौरान गोली लगने से घायल हुए हाकिम सिंह ने लिखित शिकायत की थी कि राजवीर सिंह गुर्जर व एक अन्य ने बंदूक से गोली मारी जिस पर करैरा में मामला दर्ज किया गया था जिसकी जाँच लम्बित थी मगर पूर्व में उच्च न्यायालय द्वारा 25 नवंबर को इस मामले में पारित आदेश के पालन में गिरफ्तारी नहीं होने और चालन पेश नहीं होने से शिवपुरी पुलिस को नोटिस जारी कर पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने के आदेश दिए थे। 

इस पूरे मामले की जाँच अब शिवपुरी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक द्वारा की जा रही है। पुलिस ने आज एसआई राजवीर गुर्जर को गिरफ्तार कर करैरा के जेएमएफसी मंजुल पाण्डे के कोर्ट में किया, जहाँ से उसे 12 अप्रैल तक जेल भेजने के आदेश दिए गए। देर शाम एसआई राजवीर गुर्जर ने स्वास्थ्य खराब होने का हवाला दिया जिस पर से उन्हें देर शाम जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

Virus-free. www.avg.com