शूटिंग बॉल प्रतियोगिता : हरियाणा, पंजाब और दिल्ली की टीम ने जीता मैच

शिवपुरी। खेल कोई भी हो यदि उसमें रोमांच और अनुशासन नहीं दिखा तो वह खेल-खेल नहीं होता और खिलाड़ियों का भी उत्साहवर्धन नहीं हो पाता, लेकिन शिवपुरी में पहली बार अखिल भारतीय स्तर पर शूटिंग बॉल डे-नाईट प्रतियोगिता के आयोजन ने जहां रोमांच दिया तो वहीं अनुशासित खेल होने का प्रतीक भी यह प्रतियोगिता साबित हुई। प्रतितयोगिता के मीडिया प्रभारी शैलेष पाराशर व एमडी गुर्जर ने संयुक्त रूप से बताया कि प्रतियोगिता के शुभारंभ बाद से ही राज्य स्तरीय टीमें जिसमें हरियाणा, भोपाल, दिल्ली, उत्तरप्रदेश और मध्यप्रदेश के इंदौर, चंदेरी और शिवपुरी के बेहतरीन शूटिंग बॉल खिलाड़ियों ने अपने खेल का रोमांच प्रदर्शित किया जिसने अधिकांशत: खिलाड़ियों और दर्शकों का मन मोहा। 

प्रतियोगिता के प्रथम चार विजेताओं को आकर्षक पुरस्कारों एवं शील्ड के साथ पुरस्कृत किया जाएगा। प्रतियोगिता के आयोजन को देखने के लिए शूटिंग बॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के टेक्निकल चेयरमैन व इस टूर्नामेंट के ओवजर्वर सतीश जोशी व सहयोग सचिव जयप्रकाश रेफरी, जाकिर खान और रफीक मोहम्मद विशेष रूप से मौजूद रहे। साथ ही आयोजन समिति के अध्यक्ष इंजी.नरेश पाराशर, उपा. संजय अवस्थी, सचिव संतोष जैन, कोषाध्यक्ष कमल सक्सैना, सह सचिव विवेक पाठक, रमाकंात भार्गव, प्रचार सचिव बी.एन.शर्मा व अवनीश मिश्रा आदि भी मौजूद रहे। 

हरियाणा, दिल्ली और पंजाब टीमों का रहा रोचक मुकाबला, जीते मैच 
प्रतियोगिता के प्रथम सत्र के बाद दूसरे दिन हुई अखिल भारतीय शूटिंग बॉल डे/नाईट प्रतियोगिता में हरियाणा और दिल्ली और चंदेरी का जोरदार मुकाबला रहा जिसमें इन तीनों टीमों ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया। परिणामों के अनुसार हरियाणा, भोपाल, दिल्ली, उत्तर प्रदेश ओर इंदौर ओर लोकल से चंदेरी ओर शिवपुरी के बीच मुकाबला हुआ। जिसमें पहला मैच हरियाणा और भोपाल के बीच हुआ और हरियाणा पहले मैच में 15-10 से और दूसरे मैच में 15-9 से विजयी रहा, दूसरा मैच दिल्ली और मध्य प्रदेश (ब्लू) के बीच रहा जिसमें दिल्ली ने पहला मैच 15-7 ओर दूसरा 15-9 से जीता, तीसरा मैच पंजाब और मध्य प्रदेश (चंदेरी) के बीच हुआ, जिसमे पंजाब ने पहला मैच 15-7 और दूसरा मैच 15-10 से जीता। 

Share on Google Plus

Legal Notice

Legal Notice: This is a Copyright Act protected news / article. Copying it without permission will be processed under the Copyright Act..

0 comments:

-----------

analytics