नगर पालिका प्रशासन के नाराज सफाई कर्मचारी देंगे धरना

शिवपुरी। नगरपालिका प्रशासन के रूख से नाराज और निराश होकर अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस के नेतृत्व में सफाई कर्मचारियों ने कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर अवगत कराया कि मजबूर होकर वह 4 नवम्बर को नगरपालिका कार्यालय के समक्ष धरना प्रदर्शन देेंगे और इसके बाद भी मांगे पूरी नहीं हुई तो शहर में सफाई कार्य बंद कर दिया जाएगा। ज्ञापन पर सफाई मजदूर कांग्रेस के अध्यक्ष चौधरी श्याम कोड़े के हस्ताक्षर हैं। 

ज्ञापन में सफाई मजदूर कर्मचारियों ने प्रशासन को अवगत कराया कि उनकी मांगों के प्रति नगरपालिका प्रशासन संवेदनशील नहीं है। पहले भी वह दो बार आंदोलन कर चुके हैं जिस पर नपाध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह, उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा और मुख्य नगरपालिका अधिकारी रणवीर कुमार ने उन्हें दो बार आश्वासन दिया कि उनकी मांगें पूर्ण की जाएंगी, लेकिन इस दिशा में कोई प्रयास नहीं किया गया।

सबसे पहले हड़ताल करने पर नपा प्रशासन ने लिखित में पत्र क्रमांक 4355 22 सितंबर 2017 को आश्वसन दिया था कि निकाय में कार्यरत 240 कर्मचारियों को नियमित किया जाएगा तथा अन्य कर्मचारियों को 9 हजार रूपए प्रतिमाह मानदेय दिया जाएगा। इस आश्वसन के बाद हड़ताल समाप्त की गई थी, लेकिन नपा प्रशासन ने अपना वायदा पूरा नहीं किया। इसके बाद सफाई कर्मचारियों ने विवश होकर पुन: हड़ताल की। 

तब नगरपालिका प्रशासन ने पत्र क्रमांक 4872/1710 2017 को संगठन को समझौता पत्र दिया कि निकाय में कार्यरत 240 सफाई कर्मचारियों का प्रस्ताव संयुक्त संचालक ग्वालियर को भेजा जा चुका है जबकि संयुक्त संचालक को मात्र 42 कर्मचारियों का प्रस्ताव भेजा गया। शेष कर्मचारियों को परिषद में प्रस्ताव पारित कर 9 हजार रूपए मानदेय देने की बात कही गई, परंतु आज तक परिषद में प्रस्ताव नहीं लाया गया। इससे स्पष्ट है कि नपा प्रशासन सफाई कर्मचारियों को गुमराह कर हड़ताल करने के लिए विवश कर रहे हैं और उसके द्वारा झूठे आश्वासन दिए जा रहे हैं। 
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------