बदरवास पुलिस ने पकड़ा अंतर्राज्यीय एटीएम गिरोह, 28 एटीएम बरामद

शिवपुरी। जिले में एटीएम संबंधी फ्रॉड एवं डिजीटल अपराध रोकने के लिए पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पांडे, अति. पुलिस अधीक्षक कमल मौर्य के निर्देशन में कोलारस एसडीओपी सुजीत सिंह भदौरिया द्वारा मिशन ई रक्षा की शुरूआत की गई। मिशन ई रक्षा के अंतर्गत हाईवे स्थित एटीएम की सुरक्षा हेतु विशेष निगरानी दल गठित किए जाकर बैंक अधिकारियों से समन्वय एवं आम जनता में जागरुकता के विशेष प्रयासों में एक महत्वपूर्ण सफलता बदरवास थाना पुलिस के हाथ लगी।

पुलिस ने आरोपी राकेश चौहान पुत्र प्रीतम सिंह चौहान, राहुल सिसोदिया पुत्र राजकुमार सिंह निवासीगण रूडकी हरिद्वार, संजय कुमार पुत्र समय सिंह राठौर निवासी ग्राम लाहवेली हरिद्वार उत्तराखण्ड को घेराबंदी कर गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की। उक्त आरोपियों द्वारा अलग- अलग राज्यों के थाना भैरूड जिला अलवसर राजस्थान, थाना पश्चिम बिहार नई दिल्ली, थाना सदर की आगरा की गोपालपुरा चौकी यूपी, थाना कोतवाली शिवपुरी मप्र एवं थाना बदरवास से एटीएम बदलकर लोगों के साथ धोखाधड़ी की। 

आरोपियों द्वारा हाईवे एवं दूरस्त ग्रामीण अंचलों के एटीएम को अपना टारगेट बनाया जाता था और एटीएम से पैसे निकालकर ट्रांसफर कर लाखों की ठगी की गई। आरोपियों को गिरफ्तार करने में बदरवास थाना प्रभारी पीपी मुदगल, उपनिरीक्षक हरबीर सिंह रघुवंशी, राजकुमार सिंह रघुवंशी, प्रआर संदीप कुजूर, आर माखन सिंह, सुनील रघुवंशी, दिनेश मुनिया, महेश पटेलिया, राजबहादुर मीना एवं पीएसआई कादिर खान, अरविंद राजपूत, चालक बलराम, सैनिक विक्रम, रमेश सिंह की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

कब कहां से की कितनी ठगी
आरोपियों द्वारा कोतवाली शिवपुरी से 11 सितम्बर को एटीएम बदलकर 73 हजार निकाले, फरियादी रूहुन खान के 18 हजार, इससे पूर्व दिल्ली के थाना पश्चिमी बिहार से एक लेपटॉप व एटीएम कार्ड से 15 हजार, थाना भैरूड से 60 हजार, थाना आगरा सदर से 75 हजार, 11 अगस्त को थाना छप्पर यमना नगर हरियाणा से 32 हजार, 1 नवम्बर को बदरवास में एटीएम बदलकर ठगी के प्रयास में पुलिस ने आरोपियों का पीछा कर गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की।

यह सामान हुआ बरामद
पुलिस द्वारा आरोपियों की तलाशी लेने पर 28 एटीएम कार्ड/क्रेडिट कार्ड जो अलग-अलग बैंकों के थे, 3 मोबाइल, 87 हजार रुपए नगर, एक टाटा जेस्ट कार क्रमांक यूके 17 डी 5764 आदि सामान जब्त किया है। आरोपियों के पास से कई एटीएम डुप्लीकेट भी मिले हैं जिनके माध्यम से विभिन्न राज्यों की पुलिस से संपर्क स्थापित कर और भी अपराधों एवं बड़े गिरोह का खुलासा हो सकता है।
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------