Sunday, June 18, 2017

सरपंच पुत्र की दबंगई: दलित के खेत को बना दिया तालाब

बैराड। जिले के पोहरी जनपद पंचायत अंतर्गत ग्राम पंचायत हर्रई में सरपंच छुननो बेडिय़ा के पुत्र अशोक बेडिय़ा के द्वारा शासकीय धन का दुरुपयोग कर ग्राम पंचायत हर्रई में विकास कार्यों पर पूर्ण तरह विराम लगा दिया है ग्राम पंचायत मैं हर योजना मैं पलीता लगाया जा रहा है जैसे कि सीसी निर्माण प्रधानमंत्री आवास निर्माण स्वच्छ भारत अभियान अंतर्गत शौचालय निर्माण जल संवर्धन योजना अंतर्गत तालाब निर्माण क्रियान्वयन सही ढंग से नहीं हो रहा है।

ऐसे ही एक मामले की गुहार एक दलित युवक ने कलेक्टर से लगाई। इस युवक ने आरोप लगाते हुए कहा है कि सरपंच सरेआम दबगर्ई कर रहा है। जिसने उसके खेत को खोदकर रातों रात तालाब बना दिया। जब दलित ने रोका तो सरपंच पुत्र ने उसके साथ मारपीट भी की है। बाया गया है कि सरपंच वृद्ध एवं अनपढ़ है जिसका पुत्र जिला एवं जनपद मैं अधिकारी-कर्मचारियों से साठगांठ कर सरपंच के समस्त दायित्वों का निर्वहन करता है।

जिससे ग्राम पंचायत में कोई भी विकास नहीं हो पा रहा है जैसे पंच परमेश्वर व 14 वित्त योजना अंतर्गत सीसी निर्माण ग्राम बरखेडी व विभिन्न कार्यों पर सरपंच पुत्र अशोक बेडिया के नाम की फर्म पर लगभग 10लाख रुपए आहरण कर लिए हैं जिनका मौके पर कोई भी निर्माण कार्य नहीं कराया गया है प्रधानमंत्री आवास योजना में प्रत्येक हितग्राही से 10 हजार से 30 हजार तक लिए जा रहे हैं जो नहीं देता है।

उसका जियो टैग फोटो नहीं होने देता जगमोहन जाटव पुत्र चरणों जाटव व राकेश जाटव का प्राप्त राशि का कार्य पूर्ण करने पर भी  जियो टैग फोटो नहीं खींचा जा रहा है जल संवर्धन योजना अंतर्गत तालाब निर्माण मैं मखनू  पुत्र नकटू जाटव के स्वयं की भूमि सर्वे नंबर 400 /4.मैं रातों-रात जेसीबी मशीन द्वारा तालाब का निर्माण करा दिया गया है इसके खिलाफ कई लोगों ने माननीय कलेक्टर साहब एवं स्ष्ठरू साहब को लिखित में शिकायत भी कर चुके हैं।

इनका कहना है-
मेरी शौचालय निर्माण को 6माह हो गए परंतु सरपंच पुत्र को 2000 रुपए नहीं दिए जिससे मेरी शौचालय का भुगतान आज तक नहीं हुआ   
सिया जाटव, पीडित दलित

मेरे पास जो भी भूमि थी उसमें सरपंच पुत्र के द्वारा रातों-रात मशीन द्वारा तालाब का निर्माण करा दिया गया है अब मैं भूमि हीन हो गया हूं ।
मखनू जाटव, पीडित दलित

हमारी ग्राम पंचायत के ग्राम हर्रई बरखेडी में आज तक कोई सीसी निर्माण नहीं कराई है जबकि सीसी के नाम पर बैंक से राशि 139000 निकाल ली सीसी ना होने से बरसात में परेशानी का सामना करना पड़ेगा  
संजय तोमर,ग्रामीण

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।