Saturday, June 10, 2017

पत्रकारिता की आड़ में कर रहा था अवैध उत्खनन, 45 ट्रॉली डंप की हुई रेत जप्त

लुकवासा। बीते कल ही नवागत कलेक्टर तरूण राठी ने ज्योइन किया इससे बात ही जिले भर में रेत माफियाओं में हडक़ंप की स्थिति निर्मित हो गई। बीते रोज कोलारस प्रशासन ने पत्रकारिता की आड़ में अवैध उत्खनन कर रेत ढो रहे एक रेत माफिया के फड़ पर कार्यवाही को अंजाम दिया है। पुलिस ने उक्त रेत माफिया से डंप की हुई 45 ट्राली रेत को भी जप्त कर लिया है। हांलाकि रेत माफिया अपनी जेसीबी और टेक्टरों को लेकर फरार हो गया था। 

जानकारी के अनुसार बदरवास थाना अंतर्गत ग्राम लिलवारा के सिंध नदी से जेसीबी मशीन द्वारा रेत के उत्खनन की खबर एसडीएम आर के पाण्डे को मिली जिस पर तुरंत कार्यवाही करते हुए एसडीएम ने बदरबास थाना पुलिस को बुलाकर कार्यवाही की। तो कार्यवाही की भनक रेत माफियाओं को लग गई और तत्काल ट्रेक्टर औैर जेसीबी लेकर फरार हो गया। 

ग्रामीण बताते हैं कि इस सीजन में इस नदी घाट से करीब 1 करोड़ की रेट का खनन हो चुका है मंगर आश्चर्य की बात यह है इतना बड़ा ट्रैक्टर प्रशासन को दिखाई क्यों नहीं देता जिससे एस अनमोल संपदा का दोहन किया जा रहा है। सूत्रों की माने तो एक पत्रकार द्वारा पत्रकारिता की आड़ में खनन को बहुत बड़े पैमाने पर अंजाम दिया जा रहा है।

जिसमें प्रशासन की संलिप्तता जगजाहिर है आखिर वह कौन से कारण है की दोपहिया मोटरसाइकिल पर बैठा व्यक्ति बिना हेलमेट के दिख जाता है तो उसका चालान बन जाता है मगर उसी रूट पर चलने वाली ट्रैक्टर ट्रॉली जो कि रेत से भरी होती है। प्रशासन की आंखों में आगे से ओझल हो जाती है अरे जनाब अनमोल संपदा को विकास के नाम पर नीलम मत कीजिए, फिलहाल बदरवास थाना पुलिस ने एवं एसडीएम कोलारस की अगुवाई में पहुंची टीम ने मौके पर पहुंचकर 45 ट्रॉली डंप की गई रेप जप्त कर ली है तथा प्रशासन की टीम की भनक लगते ही खनन माफिया खनन के लिए इस्तेमाल की जा रही जेसीबी एवं ट्रैक्टर ले कर भाग खड़े हुए।