राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस 9 फरवरी को

शिवपुरी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन 9 फरवरी को किया गया है। इस अवसर पर 1 से 19 वर्ष तक के सभी बच्चों को शासकीय, अशासकीय विद्यालयों, छात्रावासों, आश्रमशालाओं एवं आंगनवाड़ी केंद्रों में पेट के कीड़े मारने की एल्बेन्डाजॉल मीठी गोली खिलाई जाएगी। यह मीठी गोली प्रशिक्षित शिक्षकों एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ता की देखरेख में खिलाई जाएगी। 

कार्यालय मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्राइमरी, माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक शालाओं एवं आंगनवाड़ी केंद्रों के माध्यम से 1 से 19 वर्षीय लगभग 7 लाख 35 हजार 645 बच्चों को कृमिनाशन के लिए एल्बेंण्डाजोल गोली की दी जाएगी। बच्चों के पेट में कृमि संक्रमण से बच्चों की शारीरिक वृद्धि पर असर पड़ता है, उनकी शारीरिक एवं मानसिक क्षमता भी प्रभावित होती है। 

इस समस्या से निजात दिलाने के लिए 9 फरवरी को राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस का आयोजन किया गया है। किसी कारणवश 9 फरवरी को एल्बेन्डाजॉल की गोली का सेवन नहीं कर पाने पर उसे 15 फरवरी को मोपअप दिवस के अवसर पर एल्बेन्डाजॉल की आधी गोली (200 मि.ग्रा.) 1 वर्ष से 2 वर्ष के बच्चों को एवं एक गोली (400 मिग्रा) 2 वर्ष से 19 वर्षीय बच्चों को खिलाई जाएगी। 
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------